पिता और बहन के बॉलीवुड स्ट्रगल को लेकर लव सिन्हा ने की बात

 शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा जल्द फिल्म गदर 2 में सनी देओल के साथ काम करते हुए नजर आएंगे। एक्टर इन दिनों फिल्म का प्रमोशन कर रहे हैं। इस बीच उन्होंने एक इंटरव्यू दिया, जहां लव ने पिता और बहन के बॉलीवुड स्ट्रगल को लेकर बात की। लव सिन्हा ने सिद्धार्थ कनन के साथ बातचीत में कहा कि उनके पिता ने शुरुआती दौर में काफी संघर्ष किया है। यहां तक कि पैसे बचाने के लिए वो बस से सफर नहीं करते थे। वहीं, सोनाक्षी सिन्हा को बॉलीवुड में स्ट्रगल करने की जरुरत नहीं पड़ी, क्योंकि उन्हें सलमान खान की फिल्म दबंग ने डेब्यू के साथ सुपरस्टार बना दिया।

लव सिन्हा ने खुलासा किया कि ऐसा समय भी था जब उनके परिवार को बहुत संघर्ष करना प था, क्योंकि उनके पास लिमिटेड पैसे थे। उन्होंने ने बताया कि उनके पिता को बस किराए पर पैसे खर्च करने और खाना खरीदने के लिए पैसे बचाने के बीच किसी एक चुनना पड़ा था। शत्रुघ्न सिन्हा को शुरुआत में अपने फाइनेंस मैनेज करने में मुश्किल होती थी। लव सिन्हा ने इंटरव्यू में ये भी बताया कि शत्रुघ्न सिन्हा सोचते थे कि क्या उन्होंने अपने सपनों को पूरा करने के लिए पटना छोड़कर मुंबई जाने का फैसला सही किया है। लव ने कहा कि उन्होंने अपने पिता के बनने और बिगड़ने दोनों की कहानी को देखा है।

खुद के स्ट्रगल को लेकर बात करते हुए लव ने बताया कि उनके पिता शत्रुघ्न सिन्हा और बहन सोनाक्षी सिन्हा ने कभी भी किसी से उनके लिए सिफारिश नहीं कि उन्हें फिल्म में कास्ट किया जाए। एक्टर ने नेपोटिज्म पर भी बात की।उन्होंने कहा,  “कई बार मैं ऑडिशन के लिए कहीं पहुंचा, लेकिन मुझे लगा कि यहां कुछ और ही चल रहा है। जैसे, हो सकता है कि मैं रोल में फिट न होऊं, लेकिन मुझे भी ऑडिशन के लिए बुलाया गया है...बस यूं ही बुला लिया गया है।"

उन्होंने कहा कि एक तरह का फायदा है, जो फिल्म इंडस्ट्री में पैदा होने पर मिलता है। किसी को लग सकता है कि कैसे इंडस्ट्री में सिर्फ टैलेंट होने पर काम नहीं चलता, लेकिन इसे लेकर परेशान होने या शराबी बनने की जरूरत नहीं है।