सीएचसी पयागपुर का डीएम ने किया औचक निरीक्षण

अनुपस्थित चिकित्सकों के विरूद्ध कार्रवाई करने के दिये निर्देश

कोविड टीकाकरण मेगा अभियान का लिया जायज़ा

बहराइच । कोविड टीकाकरण मेगा अभियान का जायज़ा लेने के उद्देश्य से जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पयागपुर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय मौजूद प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. विकास वर्मा ने डीएम डॉ. चन्द्र को बताया गया कि मेगा टीकाकरण हेतु क्षेत्र में 42 टीमें भेजी गयी हैं। डीएम ने प्रभारी चिकित्साधिकारी से सीएचसी में उपलब्ध संसाधनों, मरीज़ों का प्रदान की जा रही सेवाओं एवं सुविधाओं तथा औषधि इत्यादि की उपलब्धता के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिया मरीज़ों को शासन द्वारा अनुमन्य सभी सुविधाएं मानक के अनुसार उपलब्ध कराई जायें। साथ ही सभी लक्षित वर्ग का शत-प्रतिशत टीकाकरण भी सुनिश्चित करायें तथा अपने स्तर से प्रभावी पर्यवेक्षण कर लापरवाह व उदासीन कार्मिकों के विरूद्ध कार्रवाई की जाये।

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र परिसर में समुचित साफ-सफाई न पाये जाने पर डीएम ने नाराज़गी व्यक्त करते हुए निर्देश दिया कि चिकित्सालय भवन सहित सम्पूर्ण परिसर की समुचित साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया तथा मानक के अनुसार मेडिकल वेस्ड का भी निस्तारण किया जाय। सीएचसी के निरीक्षण के दौरान कुछ आशा व आशा संगिनी द्वारा मानदेय भुगतान के सम्बन्ध में अनुरोध करने पर डीएम ने प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया कि बजट की उपलब्धता के अनुसार तत्काल मानदेय का भुगतान कराना सुनिश्चित करें। इमरजेन्सी ड्यूटी पर तैनात डॉ. अतुल मिश्रा अनुपस्थित पाये गये। इस स्थिति पर नाराज़गी व्यक्त करते हुए डीएम ने सीएमओ को निर्देश दिया कि इमरजेन्सी ड्यूटी से अनुपस्थित चिकित्सक तथा लम्बे समय से अनुपस्थित चल रहे चिकित्सकों के विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई करें। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी पयागपुर दिनेश कुमार मौजूद रहे।