महामारी की चिंताएं कम होने के बीच चीन ने छात्रों के लिए वीजा नियमों में ढील दी

बीजिंग : चीन ने वीजा देने पर लगाए गए कड़े प्रतिबंधों में ढील देना शुरू कर दिया है। लगभग दो साल पहले कोविड-19 महामारी की शुरुआत के दौरान विदेशी छात्रों और अन्य को जारी किये गए वीजा काफी संख्या में निलंबित कर दिए गए थे। भारत में चीन के दूतावास की वेबसाइट ने कहा कि अद्यतन प्रक्रिया बुधवार से लागू होगी। 

वेबसाइट पर कोविड रोधी टीके की आवश्यकताओं या संक्रमण नहीं होने की पुष्टि वाले ‘नेगेटिव’ प्रमाण पत्र के बारे में कुछ नहीं कहा गया। अन्य देशों से चीन पहुंचने वाले लोगों के लिए अब भी होटल में या निजी घर में पृथक-वास में रहने और जांच में नेगेटिव प्रमाणित की जरूरत है जिसके बिना यात्री कई सार्वजनिक स्थलों पर नहीं जा सकते। वीजा में ढील से भारतीय छात्रों को फायदा हो सकता है, विशेष रूप से उन्हें जो पश्चिमी देशों के मुकाबले बेहद किफायती दरों पर चिकित्सा की पढ़ाई कर रहे हैं।

 दूतावास ने कहा, “जो छात्र पढ़ाई पूरी करने के लिए चीन वापस आना चाहते हैं, उन्हें चीन के विश्वविद्यालय द्वारा जारी ‘परिसर में वापसी का प्रमाण पत्र’ दिखाना आवश्यक है। वाशिंगटन में चीन के दूतावास ने भी एक नोटिस साझा कर कहा है कि छात्रों और अन्य लोगों के लिए बुधवार से नए वीजा नियम लागू होंगे।