तिरंगा यात्रा के दौरान दो गुटों में टक्कर हुआ पथराव एक घायल

लखनऊ। आजादी की 75 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष में पूरे देश में मनाए जा रहे हैं आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान पूरे देश में तिरंगा यात्रा निकालकर लोग एकता और अखंडता को मजबूत कर रहे हैं वहीं लखनऊ कमिश्नरेट के पूर्वी जोन अंतर्गत आशियाना थाना क्षेत्र में स्वतंत्रता दिवस के दिन दोपहर करीब 2 बजे बंगला बाजार के पास तिरंगा यात्राओं के दौरान दो घूट आमने सामने आ गए। दोनों गुटों के बीच तिरंगा यात्रा के दौरान जमकर पत्थरबाजी हुई जिसमें एक युवक को गंभीर चोटें आई और 2 गाड़ियां भी क्षतिग्रस्त हो गई।

 डीसीपी पूर्वी प्राची सिंह ने बताया कि सोमवार की दोपहर करीब 2 बजे बांग्ला बाजार के पास तिरंगा यात्रा के दौरान दो गुटों में पथराव हुआ जिसमें रवि नाम के एक लड़के को चोटे आई हैं। उन्होंने बताया कि एक तिरंगा यात्रा जेल में बंद सोनू रावत गुट के लोग निकाल रहे थे जिनके द्वारा तेलीबाग से आशियाना की तरफ तिरंगा यात्रा लेकर जा रहे दूसरे गुट पर पथराव किया गया। उन्होंने बताया कि तिरंगा यात्रा में पर पथराव के दौरान 2 गाड़ियां भी क्षतिग्रस्त हुए हैं और आयुष यादव की तहरीर पर 10 लोगों को नामजद करते हुए विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है और मुकदमे में नामजद किए गए लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की तीन टीमें गठित की गई हैं।

 बताया जा रहा है कि आशियाना थाना क्षेत्र के बांग्ला बाजार के पास तिरंगा यात्राओं के दौरान आमने सामने आए दो गुटों के लोगों में पहले से कुछ विवाद चल रहा था जिसको लेकर आज तिरंगा यात्रा के दौरान सड़क पर ही दो गुट आमने सामने आ गए और पथराव शुरू हो गया । बताया जा रहा है कि जिस समय तिरंगा यात्रा में शामिल लोग एक दूसरे पर पत्थरबाजी कर रहे थे उस समय वहां हड़कंप मच गया हालांकि तिरंगा यात्रा के दौरान हुए पत्थराव के बाद भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। 

जिससे बड़ी घटना होने से बच गई। बताया जा रहा है कि जेल में बंद शातिर अपराधी सोनू रावत के गुटके द्वारा दूसरे गुट के लोगों पर पथराव करने के साथ-साथ लाठी-डंडे भी चलाए गए। बताया जा रहा है कि जिस समय सड़क पर तिरंगा यात्रा के दौरान पथराव और मारपीट की घटना हुई उस समय लोग अपने आप को बचाकर वहां से भागते हुए भी देखे गए । हालांकि इस संबंध में पुलिस अभी किसी की गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं कर रही है लेकिन पुलिस सूत्र बता रहे हैं कि तिरंगा यात्रा के दौरान पथराव कर माहौल को बिगाड़ने के मामले में पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है।