समन के बावजूद कोर्ट में गवाही न देना पीड़ित को पड़ा महंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

नोएडा : जनपद में लूट के मामले में अदालत में गवाही न देना एक पीड़ित को महंगा पड़ा और न्यायालय द्वारा जारी वारंट के आधार पर पुलिस ने मंगलवार को उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने यह जानकारी दी। जनपद के थाना सेक्टर-39 के प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार वालिया ने बताया कि वर्ष 2012 में काशीराम कॉलोनी में रहने वाले लइक नामक व्यक्ति के साथ लूट हुई थी।

 इस मामले में बदमाश पकड़े गए थे। उन्होंने बताया कि यह मामला अदालत में विचाराधीन है। इस मामले में गवाही के लिए अदालत की तरफ से पीड़ित लइक को कई बार समन जारी किया गया, लेकिन वह गवाही देने नहीं पहुंचे। उन्होंने बताया कि अदालत ने गवाह के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया, जिसके बाद पुलिस ने आज उसे गिरफ्तार कर लिया है। 

उन्होंने बताया कि उसे अदालत में पेश किया जा रहा है। थाना प्रभारी ने बताया कि मुकदमा दर्ज करवाने के बाद अगर पीड़ित या उस मुकदमे के गवाह अदालत में गवाही देने के लिए नहीं हाजिर होते हैं तो उनके खिलाफ भी अदालत की तरफ से कार्रवाई की जाती है।