देश की आजादी में मुस्लिमों का बड़ा योगदान: फजलुर्रहमान

सहारनपुर। आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में बेहट रोड स्थित मदरसा जामिया रहमानिया दारूल किरात तैय्यबा में ध्वजारोहण किया गया। इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि उक्त मदरसे की स्थापना 1975 में की गयी थी जिसका शुभारंभ हकीमुल इस्लाम हजरत कारी मौहम्मद तैयब स्व.मोहतमित दारूल उलूम देवबंद वालों ने की थी। 

इस अवसर पर फजलुर्रहमान ने कहा कि तिरंगा हमारी आन-बान-शान का प्रतीक है। प्रत्येक देशवासी को स्वाधीनता दिवस धूमधाम से मनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश की आजादी में मुस्लिमों का बड़ा योगदान रहा है। रेशमी रूमाल की कार्यशैली से सभी परिचित हैं। इस अवसर पर भारी संख्या में गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।