छः बच्चों का पिता व तीन बच्चों की मां के प्रेम प्रसंग का हुआ अंत जंगल में मिले दोनों के शव

फतेहपुर। थाना क्षेत्र के कंधिया गांव में 52 वर्षीय छह बच्चों का पिता व 37 वर्षीय तीन बच्चों की मां का पिछले दस वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था जिसमें शनिवार को शाम दोनों प्रेमी प्रेमिका गांव के किनारे जंगल में जाकर शराब कोल्ड़ ड्रिंक व खाना पीना किया इसके बाद किसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई जिसके बाद प्रेमी ने पहले अपने प्रेमिका की हत्या कर दी इसके बाद खुद पास में लगे पेड़ पर फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली रविवार की सुबह जब ग्रामीणों ने जंगल की तरफ पेड़ पर लटका शव देखा तो अवाक रह गए वहीं कुछ ही दूरी पर मृत अवस्था में महिला का शव पड़ा था जिसके बाद यह खबर आग की तरह चारों तरफ फैल गई और लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दिया जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम हाउस भेजा।

जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के कंधिया गांव निवासी रामबाबू 52 वर्ष की पत्नी 20 वर्ष पहले स्वर्ग वासी हो चुकी थी जिसके बाद इसका जीवन तीन बच्चों व तीन बच्चियों के सहारे चल रहा था लेकिन लगभग दस वर्षों पहले पड़ोस की एक महिला रूक्मिणी 37 वर्ष से इसका प्रेम प्रसंग शुरू हो गया जब कि उस महिला के भी एक लड़की व दो बच्चे थी लेकिन फिर भी दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा ।

जिसमें रुक्मिणी का पति चुनबुदिया को इसकी जानकारी हुई तो उसने इसका विरोध किया लेकिन फिर भी न मानने पर वह अपनी पत्नी व बच्चों को छोड़कर परदेश कमाने चला गया इसके बाद वापस नहीं लौटा जिससे महिला का प्यार और बढ़ने लगा शनिवार को शाम दोनो गांव के किनारे जंगल में जाकर शराब व कोल्ड ड्रिंक खाना पीना की पार्टी किया इसी दौरान किसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई ।

जिसके बाद प्रेमी ने पहले प्रेमिका को मौत के घाट उतारा इसके बाद खुद पास में लगे पेड़ पर फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली सुबह ग्रामीणों ने देखा तो सनसनी मच गई जिसकी खबर इलाकाई पुलिस को दिया जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम हाउस भेजा। वही इस घटना में असोथर थाना प्रभारी नीरज यादव ने बताया कि दोनों लोगों ने सुसाइड किया है किसी भी पक्ष से कोई आरोप नहीं है दोनों शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम हाउस भेजा गया है।