सात दिवसीय श्रीमत भागतव कथा का किया गया आयोजन।

ब्यूरो  ,सीतापुर : जनपद सीतापुर की तहसील में क्षेत्र के उमरिया गांव में कथा व्यास निरंकार  महाराज ग्राम उमरिया जनपद सीतापुर से पहुंचे कथा स्थल - झुंझा जिला सहडोल मध्यप्रदेश सप्त दिवसीय श्री राम कथा  संगीतमय श्रीमद् भागवत कथा में पहुंचकर कथा सुनें और आशीर्वाद प्राप्त करें। श्रीमद् भागवत कथा सुनने से हमारे बहुत से पाप दूर हो जाते हैं श्रीमद्भागवत कथा सुनना और सुनाना दोनों ही मुक्तिदायिनी है तथा आत्मा को मुक्ति का मार्ग दिखाती है। भागवत पुराण को मुक्ति ग्रंथ कहा गया है, इसलिए अपने पितरों की शांति के लिए इसे हर किसी को आयोजित कराना चाहिए। इसके अलावा रोग-शोक, पारिवारिक अशांति दूर करने, आर्थिक समृद्धि तथा खुशहाली के लिए इसका आयोजन किया जाता है।श्रीमद्भागवत कथा जीवन-चक्र से जुड़े प्राणियों को उनकी वास्तविक पहचान करता है, आत्मा को अपने स्वयं की अनुभूति से जोड़ता हैं तथा सांसारिक दुख, लोभ-मोह- क्षुधा जैसी तमाम प्रकार की भावनाओं के बंधन से मुक्त करते हुए नश्वर ईश्वर तथा उसी का एक अंश आत्मा से साक्षात्कार कराता है।