प्रेग्नेंसी में रोज करें मेडिटेशन, टेंशन-अवसाद जैसी समस्याओं से मिलेगी राहत

प्रेग्नेंसी में महिलाओं के शरीर में कई तरह के हार्मोन्स बदलाव होते हैं। इस अवस्था में महिलाओं को अपने स्वास्थ्य का खास ध्यान रखना पड़ता है। खाने-पीने से लेकर अपनी मानसिक शांति हर चीज पर ध्यान देना पड़ता है। 

इस दौरान आप मेडिटेशन और योग के जरिए एंग्जायटी, डिप्रेशन और ज्यादा सोचने की समस्या से राहत पा सकते हैं। आप एंग्जायटी, तनाव जैसी समस्याओं से भी दूर रहते हैं। यह बच्चे के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होती है। साथ ही इससे आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है। तो चलिए आपको बताते हैं कि प्रेग्नेंसी में मेडिटेशन करने से क्या-क्या फायदे होंगे...

चिंता करे दूर 

प्रेग्नेंसी में कई बार बदलाव के दौरान महिलाओं को ततनाव और डिप्रेशन जैसी समस्यों भी हो सकती हैं। इससे राहत पाने के लिए आप मेडिटेशन जरुर करें। मेडिटेशन करने से आपको बहुत ही शांति मिलती है और आपको सुकून भी पहुंचता है।

अच्छी नींद के लिए 

आप अच्छी नींद के लिए भी मेडिटेशन कर सकती हैं। इससे आपको गर्भावस्था में काफी अच्छी नींद आएगी। शोध के अनुसार, योग और मेडिटेशन करने से आपको काफी अच्छी नींद आती है। नींद की गुणवत्ता में भी इससे सुधार होता है।

प्रेग्नेंसी के दर्द से राहत 

मेडिटेशन करने से आपको प्रेग्नेंसी में होने वाले दर्द से भी राहत मिलेगी। नियमित तौर पर मेडिटेशन करने से पेल्विक गिर्डल पेन, कमर दर्द और पेट के निचले हिस्से के दर्द से भी काफी आराम मिलेगा। इसके अलावा प्रसव के दौरान होने वाली पीड़ा से भी आपको राहत मिल सकती है। मेडिटेशन करने से आपको दर्द के दौरान मन शांत रखने में सहायता मिलती है। 

थकान कम करें 

गर्भवस्था में कई महिलाओं को थकान और कमजोरी जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। इस परेशानी से रहात पाने के लिए आप मेडिटेशन का सहारा ले सकती हैं। मेडिटेशन करने से आपके शरीर की मांसपेशियों को आराम मिलती है। इसके साथ ही आपके अंदर कार्य करने की क्षमता भी बढ़ती है। आपकी इम्यूनिटी भी मजबूत रहती है। 

डिप्रेशन से भी मिलेगी राहत  

गर्भावस्था में कई महिलाओं को अवसाद यानी की डिप्रेशन की समस्या हो सकती है। आप इससे राहत पाने के लिए थोड़े समय के लिए मेडिटेशन भी जरुर करें। नियमित रुप से ध्यान लगाने से आपका मन शांत रहेगा। इसके अलावा आप डिप्रेशन जैसी समस्याओं से भी राहत मिलेगी। 

प्रेग्नेंसी में मेडिटेशन करने की तकनीक 

माइंडफुलनेस मेडिटेशन 

माइंडफुलनेस मेडिटेशन ऐसी मेडिटेशन है जिसके जरि आप अपने मने में आ रहे गलत विचारों पर काबू पा सकते हैं। इसके जरिए आपको आंतरिक शांति भी मिलती है और गलत विचारों से छुटकारा भी मिलता है। इसे करने के लिए आप पैरों को मोड़कर आंखें बंद करके सांस लें और फिर छोड़ दें। 

मंत्र मेडिटेशन 

इस मेडिटेशन में आपको लगातार एक मंत्र का उच्चारण करना होता है। आप ओम या फिर किसी ओर शब्द का उच्चारण कर सकते हैं। इस मेडिटेशन को आप आंखें बंद करके और आंखें खोलकर भी कर सकते हैं। 

वॉकिंग मेडिटेशन 

आप शायद इस बात को न जानते हों कि वॉकिंग मेडिटेशन भी ध्यान लगाने की एक तकनीक ही है। इसमें व्यक्ति निर्धारित समय तक मन लगाकर तय की गई दूरी पर चलते हैं। इस दौरान अपना ध्यान व्यक्ति को सांसों और कदमों पर केंद्रित करना होता है। इसके अलावा अपने आप को सारे विचारों से मुक्त करके रखना होता है।