टीम इंडिया में हो रहे बदलावों को लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ ने कहा

भारतीय क्रिकेट टीम ने बैट और बॉल के साथ कुछ शानदार प्रदर्शनों की बदौलत इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज को 2-1 से अपने नाम किया। अब दोनों देश वनडे सीरीज में एक-दूसरे के आमने-सामने होंगे। वहीं, इस सीरीज में टीम इंडिया ने कुछ प्रयोग किए, जो टी20 वर्ल्ड कप 2022 से पहले करना अच्छी बात है, क्योंकि टीम 2013 की चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीतने के सूखे को समाप्त करना चाहती है। हालांकि, इस दौरान रोटेशन पॉलिसी देखी जा रही है, जिसको लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ नाखुश हैं। 

राशिद लतीफ ने एक यूट्यूब चैनल पर कहा, "आप ऋषभ पंत को टॉप ऑर्डर में खिला रहे हो, लेकिन वह निचले क्रम में खतरनाक खिलाड़ी है। पावरप्ले में तो कोई भी खेल सकता है। आईसीसी रैंकिंग में दस में से 9 खिलाड़ी ओपनर हैं। मैच नीचे खेलने से बनता है। अगर श्रेयस अय्यर निचले क्रम में 28 रन बनाकर जाते हैं तो उनके रन ओपनिंग करने पर 30 रन बनाने वाले बल्लेबाज से अच्छे हैं।" 

उन्होंने आगे कहा, "मुझे लगा कि भारत के सामरिक बदलाव बहुत अधिक हैं। उन्हें 3-0 से जीतना चाहिए था, क्योंकि वे जिस फॉर्म से गुजर रहे थे, उसे देखते हुए सीरीज में क्लीन स्वीप करना चाहिए था। जब आपको एक सीरीज में उस तरह की पकड़ मिलती है, तो आपको इसे कभी दूर नहीं होने देना चाहिए। यह कुछ ऐसा है जो ऑस्ट्रेलिया में है।" 

वहीं, टीम इंडिया के प्लेइंग इलेवन कॉम्बिनेशन में हो रहे बदलावों को लेकर उन्होंने कहा, "ये अपनी टीम खराब कर रहे हैं। ऐसा नहीं होता है कि आप रोहित शर्मा या केएल राहुल के ऊपर एक खिलाड़ी को जगह देते हैं। ये टीम रोहित शर्मा और विराट कोहली पर आधारित है। कभी-कभी एक खिलाड़ी फॉर्म से दूर होता है। जब ये खिलाड़ी ऑफ-फॉर्म होते हैं तो आप दूसरों को जिम्मेदारी देते हैं। अब, कोई भी जिम्मेदारी नहीं ले रहा है। अब अगर टीम हार जाती है तो जिम्मेदारी कोहली या रोहित पर है।"