स्वच्छ भारत मिशन को पलीता लगा रहे हैं जनप्रतिनिधि

मनकापुर, (गोण्डा) ।जहां भारत सरकार लाखो रुपये ग्रामीण व शहरी क्षेत्रो में  स्वच्छ भारत मिशन पर लाखो रुपये खर्च कर रही है।वही दूसरी तरफ जन प्रतिनिधि सरकार की नीति को पलीता लगा रहे है।विकास खंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत गडरही में  स्थित सामुदायिक शौचालय आधा अधूरा बना हुआ है। और सामुदायिक शौचालय के दरवाजे पर ताला लगा है और आसपास झाड़ी व खरपतवार युग आया है।

वर्तमान प्रधानअकालपती के कार्य देख रहे ठाकुर प्रसाद द्वारा अर्ध निर्मित सामुदायिक शौचालय को जैसे-तैसे छोड देने से गांव की महिलाओ को खुले में शौच जाने को मजबूर होना पडता है और सरकार की मंशा की हवा निकाल रहे है।उक्त गांव की आबादी लगभग पांच हजार की है।

जब कि ग्राम प्रधान द्वारा वर्तमान समय विभिन्न मदो से चार माह के अन्तराल में नौ लाख रुपये लगभग प्रधान निधि से ग्राम प्रधान द्वारा निकासी की जा चुकी है लेकिन देश के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत मिशन की ओर ग्राम प्रधान ध्यान देना उचित नही मान रहे है।गांव के ही घिसयावन,मुन्ना,दुरपता आदि लोगो का कहना है कि प्रधान द्वारा पंचायत भवन के मरम्मत में धांधली की जा रही है।