पांचवी बार सीधी बातचीत करेंगे जो बाइडेन और शी जिनपिंग, तनावपूर्ण बने हुए संबंध करेंगे चर्चा

वाशिंगट : अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन और उनके चीनी समकक्ष शी जिनपिंग राष्ट्रपति पद पर रहते हुए गुरुवार को पांचवी बार सीधी बातचीत करेंगे। इस दौरान दोनों नेता जटिल रिश्तों के भविष्य पर चर्चा करेंगे। पहले ही अमेरिका और चीन के संबंध तनावपूर्ण बने हुए हैं। व्हाइट हाउस ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच अमेरिका के पूर्वी तट समयानुसार सुबह साढ़े आठ बजे बातचीत होगी और बाद में उसकी जानकारी दी जाएगी। 

गौरतलब है कि दोनों देशों के बीच नवीनतम तनाव अमेरिकी कांग्रेस (संसद) के निम्न सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव की स्पीकर नैंसी पेलोसी की संभावित ताइवान यात्रा को लेकर पैदा हुआ है। ताइवान स्वशासित द्वीप है जिसे चीन अपना हिस्सा मानता है। चीन ने कहा कि वह इस यात्रा को उकसावे की कार्रवाई के तौर पर देखेगा। 

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा प्रवक्ता जॉन किर्बी ने बुधवार को कहा था कि यह अहम है कि बाइडन और शी नियमित संपर्क में रहें। व्हाइट हाउस में मीडिया को जानकारी देते हुए किर्बी ने कहा, 'राष्ट्रपति सुनिश्चित करना चाहते हैं कि राष्ट्रपति शी के साथ संवाद के रास्ते खुले रहें क्योंकि वे इसकी जरूरत महसूस करते हैं।' उन्होंने कहा, 'ऐसे मुद्दे हैं जिन पर हम चीन के साथ सहयोग कर सकते हैं और ऐसे मुद्दे भी हैं जिन पर टकराव और तनाव है।' बाइडेन और शी ने आखिरी बार रूस द्वारा यूक्रेन पर हमले के कुछ समय बाद मार्च में बातचीत की थी। किर्बी ने कहा, 'यह दुनिया में सबसे अहम द्विपक्षीय संबंधों में से एक है जिसका असर दोनों देशों से परे होता है।' किर्बी ने अमेरिका और चीन के बीच तनाव के कई मुद्दे गिनाए, जिनपर बात हो सकती है।