जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला पोषण समिति की बैठक हुई संपन्न

चित्रकूट। जिलाधिकारी ने वी0 एच0एस0एन0डी0 कार्यक्रम की मानिटरिंग एवं समीक्षा की चर्चा, वी0 एच0 एस0 एन0 डी0 में ड्यू लिस्ट के अनुसार लाभार्थियों की उपस्थिति, पोषण अभियान के अंतर्गत चयनित सैम बच्चों के फॉलो अप की प्रगति पर चर्चा, चिन्हित बच्चों के जिला अस्पताल में जांच के उपरांत पाए गए सैम बच्चों के फॉलोअप की स्थिति, आंगनबाड़ी केंद्रों पर पंजीकृत लाभार्थियों की संख्या, एन0आर0सी स्टेटस, निर्माणाधीन आंगनबाड़ी केंद्रों निर्माण की प्रगति, महानिदेशक राज्य पोषण मिशन द्वारा जारी कन्वर्जेंस एक्शन प्लान के क्रियान्वयन के संबंध में चर्चा, आंगनबाड़ी केंद्रों पर पंजीकृत लाभार्थियों को नवीन व्यवस्था के अंतर्गत सूखा राशन का वितरण आदि बिंदुओं पर चर्चा हुई।

जिलाधिकारी ने सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि सैम मैम बच्चों की फीडिंग एएनएम के माध्यम से ई कवच एप पर कराएं मऊ रामनगर शिवरामपुर की स्थिति अत्यंत खराब है इसमें प्रगति कराई जाए, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री मनोज कुमार को निर्देश दिए कि सभी आंगनबाड़ी कार्यकत्री एवं सुपरवाइजरों को निर्देश दे कि गर्भवती महिलाओं कि जो हीमोग्लोबिन मैप का गैप है उसे ठीक कराएं तथा समय से जांच कराकर दवाई उपलब्ध कराएं, सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों से कहा कि बी एच एस एन डी सेशन में अपने अपने क्षेत्रों पर भ्रमण करके व्यवस्थाओं को देखें जहां पर जिन बिंदुओं में कमी है उसे ठीक कराएं ताकि नीति आयोग के सूचकांकों में रैंकिंग में कमी न रहे। 

मुख्य विकास अधिकारी ने प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों से कहा कि जिन गर्भवती महिलाओं की हिमोग्लोबिन में कमी आ रही है तथा कुपोषित बच्चे जांच में पाए जाते हैं उसकी सूची संबंधित बाल विकास परियोजना अधिकारियों को उपलब्ध कराएं ताकि उन्हें स्वास्थ्य लाभ दिलाया जा सके, यूनिसेफ के लोगों से कहा कि अपने सेशन पर क्षेत्रों का भ्रमण  अवश्य करें। जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से लाभार्थियों को सूखा राशन की आपूर्ति एवं वितरण सही तरीके से कराया जाए कहीं से कोई शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। जो बच्चे कुपोषित उन्हें पोषण पुनर्वास केंद्र में भर्ती कराकर स्वास्थ्य लाभ दिलाया जाए इसमें सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों को माह का लक्ष्य भी निर्धारित किया जाए।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी श्री भूपेंद्र द्विवेदी,उप जिलाधिकारी कर्वी पूजा यादव, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक  ऋषि मुनि उपाध्याय, जिला पंचायत राज अधिकारी  तुलसीराम, जिला समाज कल्याण अधिकारी  ज्ञानेंद्र सिंह भदौरिया, जिला खादी एवं ग्रामोद्योग अधिकारी राजेंद्र कुमार आदि संबंधित अधिकारी,बाल विकास परियोजना अधिकारी, समस्त प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, सुपरवाइजर मौजूद रहे।