आम का जूस पीने से बिगड़ी बारातियों की तबीयत, दूल्हा बेहोश

मथुरा। थाना फरह क्षेत्र के परखम गांव से नंदू पुत्र केदार की बरात शुक्रवार को आगरा के गांव रद्दू की गढ़ी (शमशाबाद के पास) गई। रात को ज्यादातर बराती वापस लौट आए। रात में सभी बराती सो गए आज सवेरे जब वह नहीं उठे तो परिवार के लोगों ने उन्हें जगाने का प्रयास किया। तब पता चला कि वे लोग बेहोश हैं। वहां से देर रात्रि लौटने के बाद दो दर्जन से अधिक बच्चे व अन्य लोग बेहोशी की हालत में आ गए।ग्रामीणों ने तत्काल पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दी। 

इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव परखम पहुंची और तीन एंबुलेंस के माध्यम से 2 दर्जन से अधिक आधी बेहोशी की हालत में पड़े बच्चों और अन्य लोगों को सीएचसी फरह लाकर भर्ती किया। सूचना के बाद मौके पर उप जिलाधिकारी सदर एवं सीएमओ डा. एके वर्मा स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ गांव में पहुंच गए। बीमार लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। 

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि खाने में कोई नशीला पदार्थ था जिसके कारण यह लोग बेहोश हुए हैं। कुछ बरातियों ने यह भी आरोप लगाया कि उनके आभूषण गायब हैं। दूल्हा नंदू भी बेहोश बताया गया है जो आगरा के नथ्थू की घड़ी में ही है। बाराती घनश्याम ने बताया कि रात में भोजन के समय आम का जूस भी दिया गया था। उसे पीने के बाद धीरे-धीरे नशा सा होने लगा। 

वहां पर लोगों ने ज्यादा गौर नहीं किया और रात में अपने गांव परखम वापस आ गए। सुबह तक लोगों को धीरे धीरे बेहोशी छाने लगी। पुलिस अब पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है। फरह के सरकारी अस्पताल पहुंची महिला सीमा ने बताया कि उनके सोने चांदी के आभूषण गायब है । दो कौंदनी,दो चूड़ी, पायजेब आदि बेहोश कर लूट लिए।