शिकायत के बाद भी नहीं खुला मानसी गंगा मुखारविंद कमलेश्वर मार्ग का गेट

मथुरा/गोवर्धन। गुरु पूर्णिमा मेले में नगर पंचायत के ईओ की कार्यप्रणाली से मंदिर सेवायतों ने रोष है। गिरिराज नगरी में इस समय गुरु पूर्णिमा मेला अपने सवाब पर है। सोमवार को नगर पंचायत के ईओ आलोक वर्मा ने मानसी गंगा मुकुट मुखारविंद मंदिर कमलेश्वर मार्ग पर स्थित गेट को ताला लगा कर बंद कर दिया। इससे सेवायतों को आर्थिक नुकसान हुआ है। गेट का ताला लगने के कारण श्रद्धालुओं का आवागमन बंद हो गया। मंदिर सेवायत मनोज शर्मा लंबरदार ने उप जिलाधिकारी संदीप वर्मा से इसकी शिकायत की है। 

लेकिन मंगलवार तक गेट का ताला नहीं खुला। इससे श्रद्धालु वापस ही लौट गए।सेवायत मनोज शर्मा लंबरदार ने बताया की मंदिर की सेवा भेंट आदि का ठेका एक करोड़ 37 लाख का उठा है। यह मार्ग पहले कभी बंद नहीं होता था। जानबूझकर ईओ ने इस को बंद कराया है।मंदिर के मैनेजर विनोद बंसीलाल अर्जुन पुजारी सेवायत संजय शर्मा विष्णु भगवान सुमित लंबरदार आदि ने इसका विरोध किया है।