PAK vs WI: बाबर आजम ने शतक ठोकने के बाद भी नहीं लिया मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड, जानें वजह

PAK vs WI 1st ODI: पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज को पहले टी20 मुकाबले में 5 विकेट से पटखनी देकर तीन मैच की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। मेजबान टीम की इस जीत के पीछे अहम रोल कप्तान बाबर आजम का रहा। विंडीज ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान के सामने 305 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था। लक्ष्य का पीछा करत हुए बाबर आजम ने वनडे करियर का 17वां शतक ठोका और टीम को जीत दिलाई। मैच के बाद जब बाबर को मैन ऑफ द मैच के लिए बुलाया गया तो उन्होंने अपना यह अवॉर्ड साथी खिलाड़ी खुशदिल शाह को देनों की मांग की। खुशदिल ने इस रनचेज में 23 गेंदों पर 178.26 के स्ट्राइकरेट से 41 रनों की तूफानी पारी खेली थी।

बाबर आजम की इस दरियादिली ने हर किसी का दिल जीता और पाकिस्तानी कप्तान की हर कोई तारीफ कर रहा है। बता दें, बाबर आजम ने 107 गेंदों पर 9 चौकों की मदद से 103 रन बनाए थे।

बाबर आजम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ इस शतकीय पारी के दम पर बतौर कप्तान वनडे क्रिकेट में 1000 रन पूरे कर लिए हैं और वह ऐसा करने वाले सबसे तेज बल्लेबाज बने हैं। बाबर ने वनडे क्रिकेट में बतौर कप्तान 1000 रनों का आंकड़ा मात्र 13 पारियों में छुआ। इससे पहले यह रिकॉर्ड विराट कोहली के नाम था जिन्होंने 17 पारियों में 1000 रन बनाए थे।

इसी के साथ बाबर आजम ने इतिहास रचते हुए वनडे क्रिकेट में दूसरी बार शतकों की हैट्रिक लगाई है। बाबर का वनडे क्रिकेट में यह लगातार तीसरा शतक है। वेस्टइंडीज से पहले पाकिस्तान के कप्तान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बैक टू बैक शतक ठोके थे। वहीं इससे पहले उन्होंने शतकों की हैट्रिक 2016 में लगाई थी जब कैरेबियन टीम के खिलाफ उन्होंने बैक टू बैक तीन 100 से अधिक रन बनाए थे।