IND vs SA: भारतीय तेज गेंदबाज भुवनेश्वर के मुरीद हुए हेड कोच मार्क बाउचर

दक्षिण अफ्रीका के हेड कोच मार्क बाउचर ने पांच टी20 मैचों की सीरीज में भारत के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के प्रदर्शन को बेहद शानदार बताया। उन्होंने एडेन मार्कराम की गैरमौजूदगी पर अफसोस व्यक्त करते हुए कहा कि वह 2-2 से बराबर छूटी सीरीज में अंतर पैदा कर सकते थे। अब केवल सीमित ओवरों की क्रिकेट में खेल रहे भुवनेश्वर ने पूरी सीरीज में चार मैचों में छह विकेट लिए और 14 ओवरों में 85 रन दिए। भुवी को उनके इस शानदार प्रदर्शन के लिए मैन आफ द सीरीज चुना गया। 

बाउचर ने पांचवां और अंतिम मैच बारिश की भेंट चढ़ने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'भुवी का प्रदर्शन इस पूरी सीरीज में विशेष रहा और हमने उच्च स्तर की गेंदबाजी का सामना किया। उन्होंने (भुवनेश्वर) हमें पावरप्ले में दबाव में रखा। एक मैच (दिल्ली) को छोड़कर उन्होंने (भारत) पावरप्ले में गेंद और बल्ले दोनों से हम पर दबदबा बनाया।' बाउचर का मानना है कि कोविड-19 से संक्रमित होने के कारण शुरू में मार्कराम के बाहर हो जाने से बहुत प्रभाव पड़ा। बाउचर ने कहा कि आईपीएल के कारण भी खिलाड़ी थके हुए थे जिसका परिणाम पर भी असर पड़ा।

उन्होंने कहा, 'पहला मैच शुरू होने से पहले ही एडेन मार्कराम का बाहर होना बड़ा झटका था। हम छह बल्लेबाजों के साथ् खेलना चाहते थे, जिसमें एडेन हमारा छठा विकल्प था और हम ऐसा नहीं कर पाए। हमने अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट नहीं खेला और आईपीएल से जुड़े हमारे खिलाड़ियों के लिये पूरे आईपीएल में खेलना और उसके बाद भारत से भिड़ना आसान नहीं था।'

भारत ने रोहित शर्मा, विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह जैसे खिलाड़ियों को इस सीरीज में आराम दिया था और बाउचर ने आईपीएल के कारण तैयार हुई भारतीय क्रिकेट प्रणाली की सराहना की। उन्होंने कहा, 'मैं जानता हूं कि इस सीरीज में कई शीर्ष (भारतीय) खिलाड़ी नहीं खेल रहे थे, लेकिन भारतीय क्रिकेट में इस समय जो गहराई है, वह काफी हद तक आईपीएल के कारण है। आप भारत में आसानी से सीरीज जीतने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। इसलिए हमने दो अच्छे और दो खराब मैच खेले और इसके भी कुछ कारण हैं। हालांकि आस्ट्रेलिया में (टी20 विश्व कप में) रणनीति बदल जाएगी और हम इसके बारे में जानते हैं।'