CM योगी का बड़ा ऐलान, अग्निवीरों को पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों की नौकरी में मिलेगी प्राथमिकता

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय सेना में सेवा देने वाले अग्निवीरों के लिए बड़ा फैसला किया है। योगी सरकार ने अग्निवीरों को यूपी पुलिस और सुरक्षा व्यवस्था से जुड़े विभागों में प्राथमिकता देने का ऐलान किया है। सीएम योगी ने अपने कू हैंडल पर इस बाबत जानकारी दी है। सीएम योगी ने लिखा, ‘मां भारती की सेवा के उपरांत अग्निवीरों को यूपी सरकार प्रदेश पुलिस एवं संबंधित अन्य सेवाओं में प्राथमिकता प्रदान करेगी। 

युवाओं के उन्नयन एवं उनके सुरक्षित भविष्य के लिए भाजपा की डबल इंजन की सरकार सतत समर्पित व पूर्णतः प्रतिबद्ध है। जय हिंद!’ बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा अग्निपथ योजना को स्वीकृति दिए जाने का स्वागत किया है। उन्होंने कहा है कि यह योजना सशस्त्र बलों के सामर्थ्य में वृद्धि करेगी। देश की सुरक्षा को सुदृढ़ करेगी। प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह योजना भारतीय सैन्य इतिहास में एक स्वर्णिम अध्याय का सृजन करेगी। योगी ने कहा कि अग्निपथ योजना का लक्ष्य सशस्त्र बलों को आधुनिक तकनीक से युक्त युवा शक्ति से जोड़ना है।

 इन युवाओं को अग्निवीर की संज्ञा दी गई है। योजना के माध्यम से युवाओं को देश की सेवा करने और राष्ट्र निर्माण में योगदान करने का अनूठा अवसर मिलेगा। इस वर्ष 46,000 अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी। अग्निवीर बढ़ते भारत की बढ़ती आकांक्षाओं के अनुरूप राष्ट्र निर्माण में सकारात्मक योगदान दे सकेंगे। राष्ट्र सेवा की अवधि के दौरान अग्निवीरों को विभिन्न सैन्य कौशल और अनुभव प्राप्त होंगे। उनके अनुशासन, नेतृत्व क्षमता, साहस और फिटनेस में वृद्धि होगी।