आचार्य प्रमोद कृष्णम नजरबंद बोले- घर से बाहर निकलने पर पाबंदी लगाना हमारे खिलाफ ज्यादती, पुलिस से झगड़ा करना उचित नहीं...

गाजियाबाद : कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम गाजियाबाद पुलिस ने उनके ही आवास पर नजरबंद किया गया है। आचार्य ने कहा भारत सरकार की नीतियों के खिलाफ कांग्रेस पार्टी द्वारा जंतर मंतर पर सत्याग्रह आयोजित किया गया है। सत्याग्रह में कांग्रेस पार्टी समेत विपक्षी पार्टियों के नेता शामिल हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं भी जंतर मंतर जाकर सत्याग्रह में शामिल होना चाहता था, लेकिन पुलिस प्रशासन ने आज घर से बाहर जाने पर पाबंदी लगा दी है। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा घर से बाहर निकलने पर पाबंदी लगाना हमारे खिलाफ ज्यादती है। अब जाने के लिए पुलिस से तो झगड़ा कर नहीं सकते हैं। 

आचार्य प्रमोद कृष्णम ने अग्निपथ योजना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा सरकार को इस योजना को वापस लेना चाहिए। पुलिस फोर्स सेना या पैरामिलिट्री फोर्स में किसी को भी नौकरी जीवन भर के लिए दी जानी चाहिए। 4 साल के लिए नौकरी देने का कोई तुक ही नहीं है। केंद्र सरकार को बड़ी संख्या में भर्तियां निकालनी चाहिए देश में बेरोजगारी बढ़ रही है। 4 साल की नौकरी देना किसी नौटंकी से कम नहीं है। यह सरकार का बहुत ही गलत फैसला है।

आचार्य प्रमोद कृष्णम भूलेख जिस तरह से मोदी सरकार ने किसानों के बिल वापस किए हैं ठीक उसी तरह अग्निपथ स्कीम को भी वापस लेना चाहिए। सरकार को अग्नीपथ सूचना को वापस लेना पड़ेगा क्योंकि पूरे देश का युवा इस योजना के खिलाफ है। आज नहीं तो कल अग्नीपथ योजना के खिलाफ आंदोलन  बढ़ेगा।