चित्रकूट में दलित नाबालिग के साथ गैंगरेप, इलाज के दौरान हुई मौत

 दरिंदों ने रात्रि में अपहरण कर किया रेप

असलियत खुलने के भय से अस्पताल में कर दी हत्या

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप हत्यारोपी पुलिस की पकड़ से दूर

चित्रकूट : जनपद चित्रकूट के पहाड़ी थाना अंतर्गत औदहा में बीते दिनों दलित नाबालिग युवती के साथ गैंगरेप के बाद इलाज के दौरान मौत का मामला सामने आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पहाड़ी थाना अंतर्गत ग्राम औदहा में 13 वर्षीय दलित युवती को रात्रि में कच्चे घर के बाहर सो रही थी।   ग्रामीण अभियंत्रण विभाग प्लांट में काम करने वाले दो युवकों ने अपहरण कर लिया रात्रि में घर से कुछ दूर नाला के पास फेंक कर फरार हो गए। परिजनों ने जब खोजबीन किया तो नाला के पास नाबालिक युवती बेहोश  मुंह में कपड़ा ठूंसा पडी मिली। तथा परिजनों ने अपनी पुत्री को बेहोशी अवस्था में उठाकर घर लाए सुबह होश आने पर परिजनों ने घटना के बारे में पूछताछ किया तो बालिका ने   आप  बीती  सुनाई, बताया कि ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के प्लांट घर के सुपरवाइजर नदीम अहमद एवं आदर्श पांडेय आए और दोनों लोगों द्वारा मुंह में कपड़ा ठूंसकर बारी बारी से बलात्कार किया तथा बेहोशी हालत में  छोडकर भाग गये, मां ने ब्लीडिंग की हालत देखकर सुबह पुत्री को लेकर परिजन थाने में सूचना देने जा रहे थे ,रास्ते में जाते समय विपुल मिश्रा निवासी अरछा बरेठी ने जबरदस्ती रास्ता रोककर कहा कि थाने जाओगे तो तुम्हारी नाबालिग पुत्री की बदनामी होगी तथा शादी विवाह नहीं होगी उक्त व्यक्तियों से पुत्री की दवा कराने पैसा दिलाने की बात कहा परिजनों ने इन्कार कर दिया। तो कहा कि अगर बात नहीं मानोगे तुम्हें तुम्हें तुम्हारे पुत्री को फर्जी मुकदमे में जेल भिजवा दूंगा और जबरदस्ती अपने गाड़ी में बैठा लिया।जीवनदायिनी अस्पताल मंझनपुर जनपद कौशांबी ले गए। इलाज हेतु भर्ती करा दिया। परिजनों ने थाना पुलिस से घटना की सूचना हेतु विपुल मिश्र से कहा तो उसने  मना कर दिया ,कुछ देर बाद नाबालिग दलित युवती रानी की मौत की सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया ,परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया।परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा कि मौत के बाद भी पुत्री से मिलने नहीं दिया। बलात्कारियों के बीच डाक्टरों से बातचीत कराते हुए नाबालिग पुत्री को मौत के घाट उतार देने का आरोप परिजनों ने लगाए। किसी तरह मृतक नाबालिक के शव को लेकर गांव आए। गांव में हड़कंप मच गया ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दिया सूचना मिलते ही प्रभारी निरीक्षक अजीत कुमार पांडेय मय हमराही फोर्स के साथ मृतिका रानी के घर पहुंच कर घटना की जानकारी किया ,उच्च अधिकारियों को अवगत कराया। तमाम थानों की पुलिस फोर्स सहित क्षेत्राधिकारी राजापुर  एसपी सोनकर एवं पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा घटनास्थल पहुंचकर जायजा लिया तथा जल्द से जल्द अभियुक्तों के विरुद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए। नाबालिक दलित युवती के साथ गैंगरेप से मौत की घटना सुनते ही सदर विधायक अनिल प्रधान, जिला पंचायत सदस्य मीरा भारती बसपा जिलाध्यक्ष शिव बाबू वर्मा, कौशलेंद्र वर्मा सोनपाल वर्मा फुल कुमार वर्मा राजू अनुपम नत्थू प्रसाद वर्मा अशोक वर्मा परिजनों को घटना की जानकारी किया तथा जल्द ही गैंगरेप के आरोपियों को गिरफ्तारी कर फांसी की सजा दिलाने एवं 50 लाख मुआवजा पीड़ित परिवार को देने की मांग किया। पुलिस प्रशासन के आश्वासन के बाद मृतिका के शव को लेकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेजा गया है। पिता भैरव दयाल के तहरीर में थाना पहाड़ी में धारा 376डी 342,364,304 लैंगिक अपराधों में बाल संरक्षण अधिनियम4-2012 अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अधिनियम (नशासत)3((2)(v) निवारण अधिनियम 1989 संशोधन 2015 के तहत अभियुक्त नदीम अहमद आदर्श पांडेय एवं विपुल मिश्रा के विरुद्ध थाना पहाड़ी में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। खबर लिखे जाने तक अभियुक्तों को पुलिस गिरफ्तार करने में नाकाम रही।  उधर समाजवादी पार्टी बहुजन समाज पार्टी कांग्रेस पार्टी सहित सामाजिक संगठनों एवं विभिन्न समाजसेवियों ने इस घटना में लिप्त अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की है।