सीएम योगी का निर्देश, जल्द जारी हो यूपी बोर्ड रिजल्ट

लखनऊ। बुधवार को टीम 9 बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को यूपी बोर्ड एग्जाम के रिजल्ट समय से जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि रिजल्ट जारी करने से पहले इसकी तारीख की जानकारी भी सभी को दें। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने प्रदेश में एएलएस एम्बुलेंस यानी एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस के बेड में और बढ़ोत्तरी करने के निर्देश दिए। बैठक में सीएम ने लखनऊ के लोहिया संस्थान और गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज के ट्रॉमा सेंटर की क्षमता बढ़ाने के भी आदेश दिए। प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या 1 हजार 645 है। इसमें 1 हजार 563 लोग होम आइसोलेशन में है। जबकि 29 लोग अस्पतालों में चिकित्सकों की निगरानी में हैं। 24 घंटों में 86 हजार से अधिक टेस्ट किए गए और 318 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई। इस दौरान 178 लोग रिकवर भी हुए। सीएम ने बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को लेकर सतर्क रहने की बात कही है। उत्तर प्रदेश में पॉजीटिविटी दर न्यूनतम बनी हुई है। मंगलवार की पॉजीटिविटी महज 0.03ः रही, जबकि वर्तमान जून माह में औसत पॉजीटिविटी 0.23ः रही है। यूपी में अब तक 11 करोड़ 60 लाख से अधिक टेस्टिंग और 33 करोड़ 40 लाख से ज्यादा कोविड टीकाकरण की डोज लगाई जा चुकी है। प्रदेश के 18 साल से ज्यादा की उम्र की पूरी आबादी को टीके की कम से कम एक डोज लग चुकी है, जबकि 94.79ः से अधिक लोगों को दोनों खुराक मिल चुकी है। वही 15 से 17 साल के बीच के 98.72ः किशोरों को पहली और 82.5ः को दोनों खुराक मिल चुकी है, इसी प्रकार, 12 से 14 साल के 92ः से अधिक बच्चों को टीके की पहली डोज और 52ः को दोनों डोज दी जा चुकी है। सीएम ने 18 साल से ज्यादा की उम्र के लोगों को बूस्टर डोज दिए जाने पर जोर दिया है। इसके लिए बूस्टर डोज की उपयोगिता और बूस्टर टीकाकरण केंद्रों के बारे में लोगो को जागरूक करने की बात कही है। साथ ही 12 से 18 साल के किशोरों को दूसरी डोज देने में भी तेजी आने की जरूरत है। किसानों के बड़ी राहत देते हुए सीएम ने गेहूं खरीद की प्रक्रिया आगामी 30 जून तक जारी रखने के निर्देश दिए। इसके अलावा मानसून-बारिश की संभावना को देखते हुए खरीदे जा रहे गेहूं की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करने की बात भी कही। प्रदेश के चिकित्सा संस्थानों में ट्रॉमा सेंटर की सुविधाओं को और बेहतर किए जाने की जरूरत है। लखनऊ स्थित राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान और गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज की ट्रॉमा क्षमता को और बढ़ाए जाने की जरूरत है। इसके अलावा स्थापित मेडिकल कॉलेजों में ट्रॉमा सुविधाओं को बेहतर रखने पर विशेष ध्यान दिया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता कराने के लिए आईआईटी कानपुर ने एक मॉडल तैयार किया है। इसका अध्ययन करते हुए बेहतर कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत करें। आकाशीय बिजली की चपेट में आने से हर साल अनेक लोगों की असमय मृत्यु होती है। सीएम ने समय से लोगों को अलर्ट किया जा सके, इसके लिए राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ कॉर्डिनेट करके बेहतर टेक्निकल मैनेजमेंट और इन्फॉर्मेशन सिस्टम लागू करें। यूपी बोर्ड परीक्षार्थियों को अपने परीक्षा परिणाम की प्रतीक्षा होगी। ऐसे में बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम समय से जारी कर दिया जाए। इसकी पूर्व सूचना अभिभावकों-परीक्षार्थियों को जरूर दी जाए। 9 हजार से अधिक एएनएम की नियुक्ति की जारी प्रक्रिया को समयबद्घ ढंग से पूर्ण कराएं। सीएम ने कहां कि इसे राज्य सरकार के 100 दिन के भीतर करने का लक्ष्य है। चयन प्रक्रिया में ट्रांसपेरेंसी के साथ योग्य अभ्यर्थियों का चयन किया जाएं।