ऑनलाइन गेम खेलने से रोकने पर नाबालिग बेटे ने मां की हत्या की

लखनऊ। लखनऊ में ऑनलाइन गेम खेलने से रोकने पर 16 वर्षीय एक लड़के द्वारा अपनी मां की कथित हत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि लड़के को ऑनलाइन गेम खेलने की लत थी और वह मां द्वारा खेलने से मना करने से नाराज था। पुलिस ने मंगलवार की रात मां का आंशिक रूप से क्षत-विक्षत शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। नाबालिग लड़का पुलिस की हिरासत में हैं। 

पुलिस ने बताया लड़के ने शनिवार को अपनी मां को गोली मार दी थी और उसके शव को दो दिन तक कमरे में बंद रखा और उसके बाद मंगलवार को पश्चिम बंगाल में तैनात सेना के जवान पिता को घटना की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि घटना के वक्त लड़के की नौ वर्षीय बहन भी घर पर थी। लड़के ने कथित तौर पर उसे धमकाया और शव से निकलने वाली दुर्गंध को छिपाने के लिए रूम फ्रेशनर का इस्तेमाल किया।

 घटना की जानकारी देते हुए अपर पुलिस उपायुक्त कासिम आबिदी ने बताया, श्श्घटना पीजीआई थाना क्षेत्र के यमुनापुरम कॉलोनी की है। लड़के के पिता वर्तमान में पश्चिम बंगाल में तैनात हैं और उसकी मां बेटे और बेटी के साथ लखनऊ में रहती थी। अधिकारी ने कहा, 16 साल का बेटा ऑनलाइन गेम पबजी का आदी था। उसने हमें बताया कि उसकी मां उसे गेमिंग के लिए रोकती थी, इसलिए उसने उसे मार डाला।

 नाबालिग ने अपनी मां को गोली मारने के लिए अपने पिता की लाइसेंसी बंदूक का इस्तेमाल किया। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल हथियार भी बरामद कर लिया है। पुलिस के मुताबिक नाबालिग ने शनिवार रात मां को गोली मार दी और छोटी बहन को दूसरे कमरे में रखा और उसे किसी को न बताने के लिए धमकाया। जिस कमरे में शव रखा था, उसमें ताला लगा दिया। 

अधिकारी ने कहा, मंगलवार शाम को जब शव से निकल रही गंध तेज हो गई तो उसने अपने पिता को घटना के बारे में बताया। पिता ने पड़ोसियों को बताया जिन्होंने पुलिस को सूचना दी। उन्होंने कहा, लड़के ने शुरू में घटना के बारे में झूठी कहानी गढ़ने की कोशिश की, लेकिन जल्द ही सच्चाई का खुलासा कर दिया।