भारत में धर्मनिरपेक्षता की सौगात मिली

भारत में धर्मनिरपेक्षता की सौगात मिली 

अधिकारों की रक्षा कर्तव्यों के पालन के लिए 

संविधान जैसी अनमोल ताकत मिली 

नए भारत का निर्माण की शक्ति मिली 


हम अत्यंत सौभाग्यशाली हैं हमारी किस्मत खुली 

भारतीय सभ्यता संस्कृति हमें मिली 

हमारी पीढ़ियों की किस्मत खुली 

भारतीय हवा में सांस लेने की चाहत मिली 


अहिंसात्मक सोच सच्चे उपयोग की युक्ति मिली 

आध्यात्मिकता से आत्मशुद्धि की ताकत मिली 

लोकतंत्र न्याय बंधुत्व की सामूहिक विरासत मिली 

हम अत्यंत सौभाग्यशाली हैं हमें मां भारती मिली 


लेखक- कर विशेषज्ञ, साहित्यकार, स्तंभकार कानूनी लेखक, चिंतक, कवि, एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया महाराष्ट्र