बच्चों को खिलाएं फाइबर से भरपूर फूड, पेट की बीमारियों से रहेंगे दूर

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क   

विटामिन्स, मिनरल्स और अन्य पोषक तत्वों के जैसे फाइबर भी शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक आहार होता है। यह पाचन तंत्र को सही ढंग से काम करने में सहायता करता है। इसका सेवन करने से पेट से जुड़ी समस्याएं भी दूर होती हैं। बच्चे अकसर बाहरी फूड खाते हैं, जिसके कारण उनका पाचन खराब  हो सकता है। आप बच्चों की डाइट में फाइबर युक्त आहार शामिल कर सकते हैं। तो चलिए आपको बताते हैं ऐसे फाइबर फूड्स जिनका सेवन बच्चों को करवाना चाहिए। 

कौन सी उम्र में खाएं फाइबर 

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, हर किसी को रोज 1000 कैलोरी के लिए 14 ग्राम फाइबर की आवश्यकता होती है। 1-3 साल के बच्चों को लगभग 19 ग्राम, 4-8 साल के बच्चों को लगभग 24-25 ग्राम, 9-18 साल से लड़कियों को लगभग 25 ग्राम फाइबर की आवश्यकता रोजाना होती है। फाइबर का सेवन करने से बच्चे ओवरईटिंग, मोटापे से भी दूर रहते हैं।

सब्जियों का करवाएं सेवन 

बच्चों को आप सब्जियों का सेवन करवा सकते हैं। इनमें पौष्टिक तत्व और डाइट्री फाइबर भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। हाई फाइबर सब्जियों में पालक, ब्रोकली, बीन्स, शकरकंद, कॉर्न, गाजर शामिल हैं। आप बच्चों को सब्जियां पकाकर ही खिलाएं। कच्ची सब्जियां बच्चे अच्छे से पचा नहीं पाते। आप पकाकर ही बच्चों को सब्जियों का सेवन करवाएं। 

ड्राई फ्रूट्स खिलाएं

आप बच्चों को ड्राई फ्रूट्स का सेवन करवा सकते हैं। लेकिन एक साल के बच्चे को आप ज्यादा ड्राई फ्रूट्स का सेवन न करवाएं। ड्राई फ्रूट्स उनके गले में अटक सकते हैं। इसके अलावा आप बच्चे को कभी भी पूरा ड्राई फ्रूट्स न खिलाएं। आप छोटे-छोटे टुकड़ों में चाप करके उन्हें ड्राई फ्रूट्स खिलाएं। 

होल ग्रेन आहार खिलाएं 

जैसे ही आपका बच्चा ठोस चीजें खाना शुरु कर देता है तो आप उसे ग्रेंस खिलाना शुरु कर दें। आप उन्हें मील में अलग-अलग वैराइटी दे सकते हैं। आप उन्हें चावल, जौ, होल व्हीट, ज्वार जैसी चीजें खिला सकते हैं। आप इन चीजों से बनी स्वादिष्ट चीजें बच्चों को खिला सकते हैं। 

फल खिलाएं 

आप  बच्चों को फल भी खिला सकते हैं। इनमें भी भरपूर मात्रा में डाइटरी फाइबर पाया जाता है। बच्चे को दिन में कम से कम एक फल जरुर खिलाएं। तरबूज, खरबूज, सेब, केला, स्ट्रॉबेरी, ब्लैकबेरी जैसे फल उन्हें खिला सकते हैं। इनमें फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है। छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर आप बच्चों को यह फल खिलाएं। 

दाल और फलियां खिलाएं 

आप बच्चों को दालें और फलियां भी खिला सकते हैं। यह माइक्रो न्यूट्रिएंट्स का बहुत ही अच्छा स्त्रोत माने जाते हैं। इनमें आयरन, पोटेशियम, फोलेट जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह डाइट्री फाइबर का भी बहुत ही अच्छा स्त्रोत माने जाते हैं। आप चना, राजमाह, मटर, मसूर की दाल, काबुली चने जैसी चीजें बच्चों की डाइट में शामिल कर सकते हैं।