भीषण गर्मी की चिलचिलाती धूप के बाद भी गांव के मनरेगा तालाबों में नहीं है एक बूंद पानी

ब्यूरो , सीतापुर : जनपद सीतापुर की तहसील महमूदाबाद के विकास खण्ड रामपुर मथुरा क्षेत्र में भीषण गर्मी व चिलचिलाती धूप के बाद भी गांवों में मनरेगा तालाबों में एक बूंद पानी नहीं है। जबकि अधिकारियों के आदेश हैं कि तालाबों में पानी भरा जाए। जिससे लोगों व पशु पक्षियों के लिए पेयजल का पानी उपलब्ध हो सके। लेकिन तालाबो में पानी नहीं भराया जा रहा है । ब्लॉक क्षेत्र में लाखों की लागत से बने तालाब शोपीस बने हैं। ब्लॉक स्तर से अब तक एक भी तालाब में पानी नहीं भराया गया है। पशु पक्षी पीने के पानी की तलाश में बस्तियों की ओर रुख करते नजर आ रहे हैं । एक और सरकार जल संरक्षण का मिशन चलाती है । जिस पर लाखों रुपए का बजट भी खर्च होता है ।और गांव से शहर तक जागरूकता अभियान चलाकर जल संरक्षण के संदेश दिए जा रहे हैं । इसके बावजूद भी तालाबों में पानी की बूंद देखने को नहीं मिल रही है । इन दिनों पड़ रही भीषण गर्मियों मैं हर कोई प्यास बुझाने के लिए परेशान नजर आ रहा है । तो इसी तरह देखा जाए तो बेजुबानों का क्या हाल होगा । रामपुर मथुरा विकास क्षेत्र अंतर्गत मॉडल तालाब समेत सैकड़ों तालाब बने हुए है । लेकिन इनमें जल भराने के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाया गया है । जिससे सोचनीय विषय यह है कि भीषण गर्मी में बेजुबान पशु ,पक्षी अपनी प्यास को कैसे बुझाएंगे । जबकि लाखों का बजट खर्च करके पूर्व में तालाब बनवाए गए हैं । लेकिन बिन पानी सब सून नजर आ रहे हैं ।