जन चेतना मिशन ने समस्याओं का ज्ञापन नगरायुक्त को सौंपा

सहारनपुर। जनचेतना मिशन से जुड़े पदाधिकारियों ने आज महानगर की विभिन्न समस्याओं को लेकर नगरायुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह से मुलाकात की और समस्याओं का ज्ञापन प्रेषित किया। ज्ञापन में अध्यक्ष सतेन्द्र आहूजा ने अवगत कराया कि पूर्व में जो सीवर लाईन बनी पड़ी थी, नई सीवर लाईन का निर्माण पुरानी को साथ जोड़कर ही किया जाना चाहिए, ताकि पुरानी सीवर लाईन भी प्रयोग होती रहे, परन्तु कुछ क्षेत्रों में ऐसा नहीं किया जा रहा है जिस कारण बजट भी बढ़ रहा है और खुदाई भी ज्यादा करनी पड़़ी। यही नहीं सीवर लाईन बनाने के लिए जो सड़के तोड़ी जा रही है, उनके विकल्प आवागमन की कोई योजना नहीं है, जिससे सड़क दुर्घटनाएं बढ रही है और जाम की स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। सड़कों व पार्कों के निर्माण में प्रयोग की जाने वाली सामाग्री उच्च कोटि की नहीं है, और ठेकेदारों ने अपनी मनमानी की है, जिस कारण निर्माण कम समय में टूट रहे हैं। 

संरक्षक गुलशन नागपाल, महासचिव शिव चन्द्र गुलाटी व संयोजक गोविन्दर सिंह ने बताया कि निर्माण कार्य की गति अत्यंत धीमी है, सड़कों व गलियों के निर्माण मे प्रभावशाली व्यक्तियों व राजनीतिक व्यक्तियों को कई लाभ पहुंचाये गये हैं, और आम जनता को नजर अंदाज किया गया है, शहर के कूड़े को एकत्र कर नियम अनुसार प्रक्रिया करने की कोई ठोस कार्यवाही नहीं हो पा रही है, आटो स्टैण्ड, ई-रिक्शा स्टैण्ड, वैण्डर जोन की व्यवस्था अति आवश्यक है।

नगरायुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह ने आश्वासन दिया कि समस्याओं का जल्द निराकरण कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि महानगर में तेजी से कार्य चल रहा है और शीघ्र ही आम जनता को इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि शिकायत मिलने के बाद समस्या का तुरन्त निराकरण भी कराया जा रहा है। 

ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से मिशन के चेयरमैन गुलशन नागपाल, अध्यक्ष सतेन्द्र आहूजा, महासचिव शिवचंद्र गुलाटी, संयोजक सरदार गोविन्दर सिंह, उपाध्यक्ष वीरेन्द्र भारती, एडवाइजरी बोर्ड के अध्यक्ष शीतल टण्ड, पूर्व अध्यक्ष रवि बब्बर शामिल रहे।