हार्मोन्स को रखना चाहते हैं बैलेंस तो डाइट में शामिल करें ये ग्लूटेन फ्री अनाज

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए हार्मोन्स का बैलेंस होना भी बहुत ही आवश्यक है। महिलाओं को पीरियड्स, प्रेग्नेंसी के बाद कई तरह के बदलावों से गुजरना पड़ता है। जिसके कारण उनके शरीर में हार्मोन्स का बैलेंस बिगड़ने लगता है। हार्मोन्स का बैलेंस बनाए रखने के लिए पेट का स्वस्थ होना भी बहुत ही आवश्यक है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, ग्लूटेन फ्री अनाज आपके हार्मोन्स को बैलेंस रखने में मदद करते हैं। तो चलिए जानते हैं उनके बारे में...

समक राइस का करें सेवन

आप हार्मोन्स को बैलेंस करने के लिए समक राइस का सेवन कर सकते हैं। समक राइस पेट में गैस, कब्ज और ब्लोटिंग जैसी समस्याओं से राहत दिलवाने में मदद करता है। इसके अलावा यह आपके शरीर में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है। यह आपकी आंतों को भी मजबूत बनाने में मदद करता है। 

ज्वार का करें सेवन 

ज्वार आपके पाचन के साथ-साथ हड्डियों के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होते हैं। इसका सेवन करने से  इंसुलिन का लेवल भी नियंत्रिण में रहता है। आप ब्रेकफास्ट में ज्वार को डोसा बनाकर खा सकते हैं। यह मीठे से होने वाली क्रेविंग को भी दूर करने में मदद करता है। 

आधे पके चावलों का करें सेवन

आधे पके चावलों में विटामिन बी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। यह आपके शरीर के हार्मोन्स को बैलेंस करने में भी सहायता करते हैं। इसके अलावा यह आपके पेट को भी स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। आप आधे पके चावलों का पुलाव बनाकर खा सकते हैं। इससे आपका पेट लंबे समय तक भरा हुआ रहेगा। 

ओट्स का करें सेवन 

आप ओट्स का सेवन भी कर सकते हैं। यह घुलनशील फाइबर का बहुत ही अच्छा स्त्रोत माना जाता है। यह आपके पेट के लिए भी बहुत ही फायदेमंद है। आप चिया के बीजों में ओट्स मिलाकर खा सकते हैं या फिर इसके अलावा आप ऐसे ही ओट्स बनाकर उनका सेवन कर सकते हैं।  

रागी का करें सेवन

रागी आपके मल त्याग करने की प्रक्रिया को सही करने में मदद करती है। इसका सेवन करने से आपको कब्ज संबंधी समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है। आप फर्मेंटेड रागी डोसा बनाकर खा सकते हैं। इसे आयरन का बहुत ही अच्छा स्त्रोत माना जाता है। यह आपकी थकान दूर करने में भी मदद करती है।