मैं निपुण अनुभवी दक्ष राजनेता

आप  सबों  का  कष्ट  दूर  करने ,

आसमां  से  जमीं  पर  उतरा  हूँ ।

सर्वशक्तिसम्पन्न   आपका  लाल ,

नैतिक गुणों का माणिक खरा हूँ ।


अद्भुत  नजारा अपने  गाँव  को ,

विकल होकर  दिखाने  आया हूँ ।

हवाई जहाज का सफर तय कर,

साईकिल  पर  चढ़ने  आया  हूँ ।


मैं निपुण अनुभवी दक्ष राजनेता ,

अभागो  को   जगाने  आया  हूँ ।

पिछली   फतेह   की   बेईमानी ,

अनगिनत  संग अपने  लाया हूँ ।


          ✍️ज्योति नव्या श्री

           रामगढ़ , झारखंड