ऑस्ट्रेलिया टीम के श्रीलंका दौरे पर मंडरा रहा खतरा, कहीं हो न जाए रद्द

जून-जुलाई में होने वाले आस्ट्रेलिया टीम के श्रीलंका दौरे पर खतरा मंडराना लगा है। वर्तमान में श्रीलंका की आर्थिक हालात को देखते हुए टीम श्रीलंका दौरा कर पाएगी या नहीं इसको लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। सोमवार को श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंद्रा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद विरोध और हिंसा का सिलसिला और भी तेज हो गया है। इस हिंसा में 5 लोगों की मौत और 200 लोग घायल हो चुके हैं। 

ऐसे हालात में आस्ट्रेलिया को जून-जुलाई में श्रीलंका का दौरा करना है। आस्ट्रेलिया को इस दौरे पर तीन टी20 मैच, 5 वनडे मैच और दो टेस्ट मैच खेलना है। 7 जून से 12 जुलाई के बीच होने वाले इस लंबे दौरे को लेकर क्रिकेट आस्ट्रेलिया लगातार श्रीलंका के वर्तमान हालात पर निगरानी बनाए हुए है और उन्हें भरोसा है कि दौरा पूर्व-नियोजित समय पर होगा।

आज से तीन हफ्ते बाद आस्ट्रेलिया टीम को इस दौरे के लिए कोलंबो पहुंचना है जहां के हालात सबसे अधिक खराब हैं। पूरे दौरे में टीम 16 दिन कोलंबो में गुजारेगी जिसे लेकर संदेह की स्थिति बनी हुई है क्योंकि श्रीलंका के प्रधानमंत्री के इस्तीफे के बाद वहां के हालात और भी खराब हो गए हैं।

सुरक्षा प्रमुख स्टुअर्ट बेली ने पिछले महीने आर्थिक संकट के बीच देश का एक का दौरा किया था और इस दौरे को लेकर सुरक्षा की बात कही थी। सोमवार रात हुए हिंसा के बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने निगरानी रखनी शुरू कर दी है।

दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया का श्रीलंका का दौरा देश के आर्थिक लिहाज से बेहतर साबित हो सकता है जहां लोग भोजन की कमी और बिजली कटौती से जूझ रहे हैं। आस्ट्रेलिया के लिए 18 महीनों के क्रिकेट कार्यक्रम का एलान कर दिया गया है। वहां होने वाले वर्ल्ड कप से पहले टीम भारत का भी दौरा करेगी जहां 3 टी20 मैच खेलेगी। इसके अलावा टीम को 2023 में फरवरी-मार्च में भारत के खिलाफ बहुप्रतीक्षित टेस्ट सीरीज भी खेलना है।