अजय जडेजा ने पांड्या की फिटनेस पर साधा निशाना

भारत के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के मौजूदा सत्र के जरिए प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में काफी लंबे समय के बाद वापसी की। आईपीएल में बतौर कप्तान पहली बार उतरे हार्दिक पांड्या ने सिर्फ बल्ले से ही नहीं बल्कि गेंद से भी शुरुआती मैचों में अपना सौ प्रतिशत टीम को देने की कोशिश की। पांड्या टूर्नामेंट के पहले कुछ मैचों में गेंदबाजी के दौरान अपने पुराने लय में नजर आए थे। 

लेकिन फिटनेस के चलते पिछले महीने उन्होंने एक मैच से हटने का फैसला किया था और उसके बाद पिछले 6 मैचों में वह सिर्फ 1 ओवर के लिए गेंदबाजी करते हुए नजर आए हैं। लेकिन अभी तक ये नहीं पता चला है कि इसके पीछे फिटनेस की समस्या है या कुछ और वजह है। बतौर बल्लेबाज टीम में खेल रहे पांड्या के गेंदबाजी न करने के पीछे कोई बड़ी वजह जरूर है। 

पांड्या पर अपनी राय साझा करते हुए भारत के पूर्व कप्तान अजय जडेजा ने कहा है कि ऑलराउंडर ने दिखावा करने की कोशिश की और फिटनेस के मुद्दों के लिए वह खुद दोषी हैं।

जडेजा ने क्रिकबज को बताया, "उसके (हार्दिक पंड्या) किसी और को नहीं बल्कि खुद को दोष देना है। इसमें कोई संदेह नहीं था कि वह चोटिल हो गया था, वह वापसी कर रहा था। उसने 140 किमी / घंटा पर गेंदबाजी की, जो शायद टीम की आवश्यकता से अधिक थी। उसने शायद कोशिश की यह दिखाने के लिए कि वह ऐसा कर सकता है, संदेह करने वालों को गलत साबित करना चाहता था।''

जडेजा ने कहा, "उन्होंने अपना सारा प्रयास और शरीर लगा दिया... इतना कि अब वह ठीक से दौड़ भी नहीं सकते और यह जीवन का एक सीखने का चरण है। एक क्रिकेटर धीरे-धीरे अपनी सीमा को समझता है। इसलिए एक बार फिर इसने अपनी अपरिपक्वता दिखाई।"