जिलाधिकारी ने दिए गोवंश के भरण पोषण की धनराशि को अंतरित करने के निर्देश

बांदा। जिलाधिकारी अनुराग पटेल की अध्यक्षता में संचालित अस्थाई/स्थाई गोवंश आश्रय स्थलों में संरक्षित गोवंश के लिए चारा, भूसा, स्वच्छ पेयजल, छाया, प्रकाश एवं उनके समुचित इलाज आदि के संबंध में कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक आयोजित की गई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी,समस्त उप जिला अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, उपायुक्त मनरेगा,समस्त खंड विकास अधिकारी, समस्त सहायक विकास अधिकारी पंचायत,जिला पंचायत राज अधिकारी के साथ-साथ मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी द्वारा प्रतिभाग किया गया। बैठक का संचालन मुख्य विकास अधिकारी द्वारा किया गया। 

बैठक में स्थाई एवं अस्थाई गोआश्रय स्थलों में संरक्षित गोवंश हेतु स्वच्छ पेयजल, छाया, रोशनी, प्रकाश आदि की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने हेतु जिलाधिकारी महोदय द्वारा निर्देश प्रदान किए गए। संरक्षित गोवंश की समुचित चिकित्सा एवं इलाज तथा शत-प्रतिशत टैगिंग किए जाने हेतु मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया गया। बैठक में समस्त उप जिलाधिकारियों एवं समस्त खंड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि गोवंश के भरण पोषण हेतु जनपद स्तर से प्राप्त धनराशि को शीघ्र ग्राम पंचायतों में अंतरित करने तथा भरण पोषण की मांग पत्र मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को उपलब्ध कराया जाए। गलत सत्यापन रिपोर्ट प्रेषित किए जाने वाले संबंधित अधिकारियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही किए जाने हेतु निर्देश दिए गए।