गर्मियों में प्याज का शरबत है लाभकारी, जानें फायदे और बनाने का तरीका

खाने का स्वाद बढ़ाना हो या फिर सलाद की हो बात, प्याज के बिना आपकी रसोई अधूरी सी लगती है। गर्मियों में तो लोग खुद को लू से बचाने के लिए भी प्याज का जमकर सेवन करते हैं। प्याज का इस्तेमाल सिर्फ खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए ही नहीं बल्कि खूबसूरती और सेहत से जुड़े कई लाभ लेने के लिए भी किया जाता है। प्याज की ग्रेवी,प्याज का सलाद या फिर प्याज की सब्जी का स्वाद तो आपने कई बार लिया होगा लेकिन क्या आपने कभी प्याज का शरबत का स्वाद चखा है, जी हां प्याज का शरबत, इसका स्वाद और सेहत के लिए फायदे दोनों बेहद कमाल के हैं। आइए जानते हैं कैसे बनाया जाता है प्याज का शरबत और क्या है इसके सेहत के लिए लाभ। 

प्याज का शरबत बनाने के लिए सामग्री-

-हरी प्याज - 1/4 कटोरी

-गुड़- 1 टेबलस्पून

-काला नमक- 1/2 टी स्पून

-वनीला एसेंस -1/4 टी स्पून

-नींबू का रस- 1 टी स्पून

-ठंडा सोड़ा

-आइस क्यूब्स

प्याज का शरबत बनाने का तरीका-

प्याज का शबरत बनाने के लिए सबसे पहले हरी प्याज लेकर उसे साफ करके उसका हरा भाग काट लें। इसके बाद कटी हुई हरी प्याज को ठंडे पानी से दो से तीन बार अच्छी तरह से धो लें। अब मिक्सर में प्याज, काला नमक, गुड़, नींबू का रस डालकर पीस लें। इसके बाद इसमें ऊपर से वनीला एसेंस भी डाल दें और एक बार फिर मिक्सर में मिश्रण को घुमा लें। प्याज के इस पेस्ट को एक बाउल में निकालकर अलग रख दें।

अब एक गिलास में दो-तीन आइस क्यूब्स डालकर उसमें 2-3 चम्मच प्याज का तैयार पेस्ट डालते हुए ऊपर से धीरे-धीरे ठंडा सोड़ा या कोई कोल्ड ड्रिंक डालते हुए पूरा गिलास भर लें। आपका प्याज का शरबत बनकर तैयार है। प्याज के शरबत का स्वाद बढ़ाने के लिए इसमें पुदीना का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। 

प्याज के शरबत के फायदे-

मेमोरी बूस्ट-

प्याज का रस मेमोरी बूस्ट करने में मदद करता है। प्याज के रस में ओमेगा3 फैटी एसिड की मात्रा पाया जाता है जो याददाश्त क्षमता में सुधार करता है।

पथरी-

पथरी की शिकायत होने पर प्याज का रस आपको लाभ पहुंचा सकता है। प्याज के रस को चीनी में मिलाकर उसका शरबत बनाकर पीने से पथरी की समस्या से निजात मिलती है।

हेयर फॉल-

प्याज के जूस में मौजूद विटामिन बी की मात्रा बालों से जुड़ी विभिन्न प्रकार की समस्याओं से स्कैल्प की सुरक्षा करती है। जिसमें बालों का झड़ना भी शामिल है। 

लू से बचाए- 

गर्मियों में लू से बचे रहने के लिए ज्यादातर लोग सलाद या सब्जी बनाकर प्याज का सेवन करते हैं। माना जाता है कि कच्ची प्याज सलाद में खाने से व्यक्ति को लू नहीं लगती है। लेकिन आपको अगर लू लग गई है तो प्याज के 2 चम्मच रस को पीने से फायदा पहुंचता हैं। वहीं सीने पर इसके रस की मालिश से भी लू में राहत मिलती है। 

झुर्रियों से राहत-

झुर्रियों की समस्या से राहत पाने के लिए भी प्याज का रस इस्तेमाल किया जा सकता है। शोध में जिक्र मिलता है कि प्याज के रस में एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होता है, जो मुक्त कणों के प्रभाव को दूर करता है। इससे शरीर पर बढ़ती उम्र के प्रभाव में कमी देखी जा सकती है। प्याज के रस को झुर्रियों के लिए कारगर माना जा सकता है। फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।