शारदा सहायक नहर का संकरा और जर्जर पुल राहगीरों के लिए मुसीबत

ब्यूरो , सीतापुर : जनपद सीतापुर की तहसील महमूदाबाद में कई वर्षों पहले क्षेत्र के शारदा सहायक नहर पर बना पुल बेहद संकरा होने से राहगीरों के लिये मुसीबत बनता जा रहा है। और आए दिन शारदा सहायक नहर पर बने पुल पर वाहनों के बढ़ते दबाव के चलते जाम की समस्या अब आम हो गई है। तथा दिन में अधिकांश समय पुल पर जाम लगा ही रहता है। और महमूदाबाद से गोडैचा, सेमरी, रामपुर मथुरा, रेउसा आदि क्षेत्रों तक आवागमन के लिये करीब 50 वर्ष पूर्व शारदा सहायक नहर पर पुल बनवाया गया था। तथा पुल सिंगल लेन होने के चलते वाहनों का आवागमन चलता रहा है।  

लेकिन बीते कुछ वर्षो से बहराइच आदि क्षेत्रों के लिये भी लोगो का आवागमन जारी होने के बाद पुल पर वाहनों का दबाव और बढ़ता जा रहा है। जिससे उक्त मार्ग पर चौपहिया और मालवाहक वाहनों का आवागमन भी तेज होता जा रहा है। क्योकि धान , गेहूं व गन्ने के सीजन में मिल और सेंटरों तक आने जाने के लिए भारी वाहनों का भी आवागमन इसी पुल से ही होता है। तथा सिंचाई विभाग ने इस पुल को जर्जर मान लिया है । 

और वर्षो पूर्व इस बाबत में आगाह करते हुए चेतावनी भी लिख दी गई । किंतु भारी वाहनों का आवागमन लगातार चल रहा है। जिससे शारदा सहायक नहर पुल पर आये दिन जाम की समस्या से राहगीर जूझ रहे हैं।  और क्षेत्रीय नागरिकों का मानना है कि अगर विभाग द्वारा समय रहते कोई अहम निर्णय नहीं लिया गया तो क्षेत्र में किसी दिन कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है।