घरेलू गैस सिलेण्डर की कीमतों में बढ़ोत्तरी जनता के साथ धोखा - प्रमोद तिवारी

सीडब्ल्यूसी मेंबर ने विदेशी मुद्रा भण्डार में गिरावट को लेकर मोदी सरकार पर लगाया देश की साख से खिलवाड़ का कड़ा आरोप

लालगंज, प्रतापगढ़। केन्द्रीय कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य एवं यू0पी0 आउटरीच एण्ड को-आर्डिनेशन कमेटी के प्रभारी प्रमोद तिवारी ने केन्द्र सरकार द्वारा घरेलू गैस की कीमत के पचास रूपये प्रति सिलेण्डर दामों में बढ़ोत्तरी तथा पेट्रोल सौ रूपये प्रति लीटर पार व डीजल नब्बे रूपये प्रति लीटर पार होने को जनता के साथ धोखा व विश्वासघात करार दिया है । प्रमोद तिवारी केन्द्र की मोदी सरकार की तगड़ी घेराबन्दी करते हुये कहा कि हाल ही में विधान सभा के चुनाव के तहत पंजाब, उत्तराखण्ड, उत्त्र प्रदेश तथा मणिपुर और गोवा में से भाजपा को चार राज्यों में सरकार बनाने का जनता ने मौका दिया। बकौल प्रमोद तिवारी इन चुनावों के पहले मोदी सरकार ने चुनाव के समय पहले जनता को अन्धकार में रखा और अब देश की जनता को मंहगाई का अच्छा रिटर्न गिफ्ट दिया है। सीडव्ल्यूसी मेंम्बर प्रमोद तिवारी ने कहा कि घरेलू गैस की कीमत प्रति सिलेण्डर बढ़ने से अब गैस की कीमत एक हजार रूपये प्रति सिलेण्डर करके मोदी सरकार ने जनता के विश्वास को छला है। श्री तिवारी ने कहा कि पहले उज्ज्वला के तहत ग्रामीण महिलाओं तक को मोदी सरकार ने गैस सिलेण्डर तो दे दिया पर अब वह यह बतायें कि मध्यम वर्ग के परिवार की गृहणियां एक हजार दाम पर इन सिलिण्डरों को कहां से भरा पायेगी। प्रमोद तिवारी ने मोदी सरकार से कहा है कि वह फौरन गैस सिलेण्डर की कीमतों में कमी करे और कांग्रेस सरकार के समय में तीन सौ पचास रूपये में प्रति सिलेण्डर का निर्धारित दाम फिर से बहाल करे । वहीं सीडव्ल्यूसी मेंम्बर प्रमोद तिवारी ने विदेशी मुद्रा भण्डार में लगातार गिरावट को भी मोदी सरकार की अदूरदर्शिता से दुनिया में देश की साख को गिराने वाला काला दिन करार दिया है। श्री तिवारी ने कहा कि विदेशी मुद्रा का भण्डार छः सौ अरब डालर से नीचे पहुंच जाना देश के लिए चिन्ताजनक है। उन्होने कहा कि दो हजार छः सौ पिनचानबे आरब डालर गिर कर अब पांच सौ सत्तानबे अरब डालर से भी कम आ गया है। वहीं उन्हीेने कहा कि ठीक इसी तरह विदेशी मुद्रा सम्पत्ति में भी भारी गिरावट दर्ज की गयी है । श्री तिवारी के मुताविक यह एक हजार एक सौ दस अरब डालर गिर कर लगभग पांच सौ तैंतीस अरब डालर पर आ गयी है। उन्होने कहा कि दुनिया की बाजार में विदेशी मुद्रा सम्पत्ति और विदेशी मुद्रा भण्डार ही किसी भी देश की साख को आंकने का मानक हुआ करती है। प्रमोद तिवारी ने तंज कसा कि कभी भाजपा सरकार के सत्तारूढ़ होने तक सोना गिरवी रख दिया जाता है तो आज देश को साख बचाने की चिन्ता सता रही है। उन्होने कहा कि मोदी सरकाार अर्थ व्यवस्था में सुधार लाये और यह मुगालफत खत्म करे कि वह शिपिंग कारपोरेशन समेत अनेक संस्थानों को बेंच कर देश चलायेगी। शविार को यहां मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ला के हवाले से जारी बयान में प्रमोद तिवारी हाल ही में पंजाब, हरियाणा और दिल्ली पुलिस के बीच हुये नग्न तांण्डव को भी मोदी सरकार की कमजोरी के चलते संघीय ढांचे काा खुला अपमान और उल्लंघन करार दिया। श्री तिवारी ने कहा कि यह घटना क्रम जिसमें तीन राज्यों की पुलिस के आमने सामने होने की सामने आयी है, साफ तस्बीर बयां करती है कि एक वर्दीधारी दूसरे राज्य के वर्दीधारी पर बन्दूक तान कर शर्मनाक एवं अशोभनीय तथा चिन्तित करने वाली दुर्भााग्यपूर्ण हालात से देश को चिन्तित करे। श्री तिवारी ने मोदी सरकार से कहा है कि वह इस कार्यवाही को किसी कबायली इलाके में नही बल्कि इुनिया के लोकतांत्रिक देश भारत में दोबारा पुनरावृत्ति रोंकने के लिए अपनी आंख खोले ।