क्या होती है गुर्दे की पत्थरी जानिए इसके लक्षण और बचाव के उपाय के बारे में

हर किसी की चाहत होती है स्वास्थ्य तंदरुस्त रहे शरीर किसी बीमारी की चपेट में न आए। परंतु गलत खानपान, आलस्य और अनहेल्दी लाइफस्टाइल शरीर को बीमारियों का शिकार बना देता है। किडनी में एक छोटा सा स्टोन भी कई हेल्थ प्रॉब्लम्स को बढ़ावा देता है। 2015 में ग्लोबल बर्डन डिजीज की स्टडी के अनुसार, हर साल करीब 1,50,000 लोग किडनी फेल्योर का शिकार हो जाते हैं। तो चलिए आज आपको बताते हैं कि क्यों बनते हैं किडनी में स्टोन...

क्यों बनते हैं स्टोन 

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, शरीर में पानी की कमी के कारण ही किडनी में स्टोन बनते हैं। यूरिक एसिड को पतला करने के लिए आपको अधइक मात्रा में पानी का सेवन करना चाहिए। लेकिन यदि आप पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पिते हैं तो आपका मूत्र में एसिड बन जाता है और यह एसिड ही आपके किडनी में स्टोन बनने का कारण बनता है। स्टोन आपके शरीर में गंभीर समस्या पैदा कर देता है। इसके कारण आपको पेशाब करने में भी परेशानी हो सकती है।

किडनी में स्टोन के लक्षण 

. पेशाब करते समय जलन और दर्द होना 

. उल्टी और मितली जैसा मन होना। 

. पेशाब करते समय खून का आना। 

. भूख कम लगना।  

. बार-बार पेशाब आना। 

. पेशाब कम आना। 

.बुखार या फिर ठंड लगना। 

किन चीजों का करें सेवन 

आप ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें। अपने शरीर को हाईड्रेट रखने का प्रयास करें। 

खट्टे फल का करें सेवन। आप नींबू, संतरा, अंगूर, मौसमी के जूस का सेवन कर सकते हैं।

आप रोजाना तुलसी का सेवन करें। इससे आपको स्टोन के कारण हो रहे दर्द से राहत मिलेगी। 

विटामिन-डी युक्त आहार करें डाइट में शामिल। आप अंडा, दूध, मशरुम, दही आदि का सेवन कर सकते हैं। 

तरल पदार्थों का करें सेवन । आप दिन में कम से कम 12 गिलास पानी का सेवन करें। यह आपकी किडनी में स्टोन बनाने वाले केमिकल को दूर करने में मदद करेगा। 

इसके अलावा आप प्याज का सेवन करें। आप कच्चा प्याज सलाद के तौर पर खा सकते हैं। प्याज का जूस बनाकर भी आप पी सकते हैं। 

क्या न खाएं

ऑक्सलेट वाले पदार्थों से दूर रहें। पालक, साबुत अनाज, चॉकलेट, टमाटर जैस पदार्थों से दूर रहें। 

विटामिन-सी पाए जाने वाले पदार्थों का सेवन भी कम करें। जैसे-सोयाबीन, चलाई, चीकू, कद्दू, सूखे बींस, कच्चे चावल, उड़द की दाल का कम ही मात्रा में सेवन करें। 

नॉनवेज का सेवन भी न करें। 

कोल्ड ड्रिंक और कैफीन से भी करें परहेज