नहीं रहीं अभिनेत्री प्रेमा किरण

 मराठी फिल्मों की जानी- मानी अभिनेत्री प्रेमा किरण का रविवार को अहले सुबह मुबंई में निधन हो गया है। अभिनेत्री ने 61 साल का उम्र में दिल का दौरा पड़ने के बाद आखिरी सांस ली। उन्होंने मराठी फिल्म उद्योग के अलावा हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में भी काम किया है। प्रेमा किरण 'धूम धड़क' (1985), 'पागलपन' (2001), 'अर्जुन देवा' (2001), 'कुंकू ज़ाले वैरी' (2005) और 'लग्नची वरात लंदनच्य घरत' (2009) जैसी फिल्मों के लिए जानी जाती हैं। प्रेमा किरण ने 80 और 90 के दशक में कई फिल्मों में अहम भूमिकाएं निभाई थीं।

 'दे दनादान', 'धूमधडका' उनकी चर्चित फिल्मों के रूप में जानी जाती हैं। उनकी और लक्ष्मीकांत बेर्डे की जोड़ी को दर्शकों ने खूब सराहा। अभिनय के अलावा उन्होंने साल 1989 की फिल्म 'उटवला नवरा'  और 'थरकप' जैसी फिल्मों का निर्माण भी किया था। प्रेमा किरण ने न केवल मराठी बल्कि गुजराती, भोजपुरी, अवधी और बंजारा भाषाओं की भी फिल्मों में महत्वपूर्ण भूमिकाएँ निभाई थीं। अभिनेत्री प्रेमा किरण के अचानक हुए निधन से पूरी फिल्म इंडस्ट्री सदमे में है।