राजस्व वसूली कम होने पर एसडीओ मटेरा व रंजीतपुर को मिली चेतावनी

उर्जा भवन पर विभागीय अधिकारियों के साथ मुख्य अभियन्ता ने की बैठक

बहराइच। मध्यांचल, विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के मुख्य अभियन्ता डॉ. अनिल पाण्डेय ने जनपद भ्रमण कार्यक्रम के दौरान उ.प्र. पॉवर कारपोरेशन के निर्देशानुसार लाइन हानियॉ कम किये जाने के उद्देश्य से संचालित अभियान की समीक्षा हेतु ऊर्जा भवन कार्यालय पर विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की। जिसमें अधीक्षण अभियन्ता मुकेश बाबू, अधि.अभि. नानपारा कृष्ण कुमार, कैसरगंज के सुनील कुमार गुप्ता, परीक्षण खण्ड के रमेश सिंह सहित समस्त उप खण्ड अधिकारी तथा बिलिंग एजेन्सी मेसर्स टी.डी.एस. के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

बैठक के दौरान मुख्य अभियन्ता श्री पाण्डेय ने लाईन हानिया घटाये जाने की कार्ययोजना एवं उसकी प्रगति, बड़े बकायेदार उपभोक्ताओं की भुगतान की स्थिति, नेवरपेड उपभोक्ताओं से राजस्व की वसूली, बिलिंग की स्थिति, क्षतिग्रस्त परिवर्तकों को बदलने की स्थिति, 1912 पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण की स्थिति एवं वर्कशाप में परिवर्तक उपलब्धता इत्यादि की समीक्षा की गयी। राजस्व वसूली की समीक्षा के दौरान अपेक्षित प्रगति न पाये जाने पर उप खण्ड अधिकारी मटेरा व रंजीतपुर को सचेत करते हुए 30 अप्रैल तक स्थिति में सुधार जाये जाने का निर्देश दिया गया। श्री पाण्डेय द्वारा बिलिंग एजेन्सी मेसर्स टी.डी.एस. के प्रतिनिधियों को त्रृटिरहित एवं समयबद्धता के साथ बिलिंग कार्य करने का निर्देश दिया गया।

बैठक के उपरान्त मुख्य अभियन्ता श्री पाण्डेय द्वारा बड़े उपभोक्ताओं की चेकिंग अभियान का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान श्री पाण्डेय ने 33 के.वी. पर विद्युत सप्लाई प्राप्त कर रहे उपभोक्ता मेसर्स सुदेश इण्डस्ट्री प्रा.लि. स्वीकृत भार 4100 केवीए एवं मेसर्स कान्ती स्टील प्रा.लि. स्वीकृत भार 800 केवीए संयोजनों पर चेकिंग टीम के साथ पहुॅच कर निरीक्षण किया। मुख्य अभियन्ता ने परिवर्तकों की उपलब्धता एवं अनुरक्षण कार्य का जायज़ा लेने के उद्देश्य से परिवर्तक वर्कशाप बहराइच एवं भण्डार केन्द्र बहराइच का औचक निरीक्षण भी किया। मुख्य अभियन्ता ने जनपद के सुदूर ग्रामीण उपभोक्ताओं के परिसर का निरीक्षण कर बिल प्राप्त होने एवं उपभोक्ता समस्याओं के बारे में भी फीड बैक प्राप्त की।