ससुराल आया युवक संदिग्ध परिस्थितियों में झुलसा

रायबरेली। पूरे किशुनी सरायं मजरे गोकना गांव में ससुराल आया युवक संदिग्ध परिस्थितियों में झुलस गया। जिसे सीएचसी से प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर किया गया है। घटना गुरुवार देर रात की बताई जा रही है। हशश पुलिस को मामले की सूचना दी गई है। जगतपुर कोतवाली अंतर्गत कोड़िया मजरे सिद्धदौर गाँव निवासी भगवानदीन गुरुवार की शाम किशुनी सरायं गांव निवासी शोभा देवी के घर ससुराल आया हुआ था। देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में उसके शरीर में आग लग गई। 

और वो धू धू कर जलने लगा जिसकी चपेट में आकर एक छप्पर व उसके नीचे रखा कुछ अनाज भी जलकर खाक हो गया। आग की लपटें देख आस पास के लोगों ने किसी तरह आग पर काबू पाया। झुलसे युवक को एम्बुलेंस से सीएचसी पहुंचाया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया है। बताते हैं कि भगवान दीन ने कुछ समय पूर्व किशुनी सरायं गाँव की शोभा देवी की पुत्री शांती देवी से प्रेम विवाह किया था। लेकिन कुछ दिनों बाद से ही उसका पत्नी से विवाद हो गया। 

जिसके बाद शांती करीबन दो महीने से अपने मायके किशुनी सरायं गांव में ही रह रही है। जहां पत्नी को ससुराल ले जाने गुरुवार की शाम भगवान दीन अपनी ससुराल आया हुआ था। सीएचसी अधीक्षक डॉ मनोज कुमार शुक्ल ने बताया कि गंभीर रूप से झुलसा हुआ युवक सीएचसी आया था। जिसकी हालत नाजुक होने पर प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर किया गया है। कोतवाल शिवशंकर सिंह ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है तहरीर मिलने के बाद आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।