कामन सिविल कोड का विरोध करेगी सपा: अखिलेश

कानून व्यवस्था फेल, भाजपा सरकार जाति देखकर तैनात कर रही अधिकारी 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि यदि प्रदेश में कामन सिविल कोड लागू करने का प्रयास किया गया तो पार्टी विरोध करेगी। बेरोजगारी, महंगाई जैसे मुद्दों से ध्यान हटाने को भाजपा लाउडस्पीकर बजा रही है। बुलडोजर जाति-धर्म देख कर चल रहा है।अखिलेश यादव बुधवार दोपहर निजी कार्यक्रमों में शामिल होने मैनपुरी आए थे। यहां एक मैरिज होम में पत्रकारों से वार्ता में कामन सिविल कोड के सवाल पर कहा कि वह इसका विरोध करेंगे। 

बुलडोजर से हो रही कार्रवाई के सवाल पर कहा, गोरखपुर में सड़क चौड़ीकरण के समय मुख्यमंत्री ने मठ के पास अपनी दुकानें हटाने पर 100 से 150 करोड़ रुपये का मुआवजा लिया था। अब सालों की कोशिश के बाद मकान, दुकान बना पाने वाले गरीबों को मुआवजा क्यों नहीं दिया जा रहा है। कहा कि कानून व्यवस्था पूरी तरह फेल हो चुकी है। भाजपा सरकार जाति देखकर अधिकारी तैनात कर रही है। अखिलेश ने कहा, हम पर जातिवाद का आरोप लगाने वाले बताएं कि क्या पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री की जाति वाले अफसरों की पोस्टिग नहीं हो रही है। 

प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव की नाराजगी के सवाल पर कहा, शिवपाल मुझसे नाराज हैं, इसका मुझे नहीं पता। भाजपा को जल्द शिवपाल जी को अपनी पार्टी में शामिल करना चाहिए। भाजपा इसमें देर क्यों कर रही है। आजम खान के समर्थकों की नाराजगी के सवाल पर कहा, पार्टी शुरू से ही उनके साथ खड़ी रही है। जरूरत पड़ने पर वह खुद उनसे मिलने जाएंगे। अखिलेश यादव ने कहा कि पूरे प्रदेश में बिजली आपूर्ति का बुरा हाल है। बुलडोजर की कार्रवाई पर कहा, सरकार गलत तरीके से कार्रवाई कर रही है।

स्टे आर्डर को भी नहीं देखा जा रहा है, जिसने वोट नहीं दिया, उस पर बुलडोजर चल रहा है। निजी कार्यक्रमों में भाग लेने बुधवार को जिले में पहुंचे सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के घर जाकर उनका हालचाल जाना और फीडबैक लिया। अखिलेश ने कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर उन्हें संघर्ष करने को प्रेरित किया। पार्टी मुखिया को अपने बीच पाकर कार्यकर्ताओं ने अपने प्रार्थना-पत्र उन्हें दिए।विधानसभा चुनाव में हार के बाद जिले में दूसरी बार आए सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने पार्टी के पुराने नेताओं को खास वरीयता दी।

 स्टेशन रोड पर पुराने समाजवादी पार्टी नेता स्व. बाबूराम चांदा के परिवार में आयोजित विवाह समारोह में शामिल होने के बाद वह पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष सुमन यादव व पूर्व एमएलसी अवधेश यादव के आवास पर पहुंचे। यहां पर उन्होंने पुराने कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। इसके बाद कचहरी रोड स्थित पूर्व मंत्री तोताराम यादव के यहां मांगलिक कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने दोनों जगह नवदंपती को आशीर्वाद दिया। पार्टी के वरिष्ठ नेता ए एच हाशमी एडवोकेट के आवास पर जाकर चर्चा की।

 अखिलेश यादव ने सभी कार्यक्रमों में युवा कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। इस दौरान उनके साथ पूर्व सांसद तेज प्रताप सिंह यादव, विधायक बृजेश कठेरिया, पूर्व मंत्री आलोक शाक्य, पूर्व विधायक राजकुमार यादव, पूर्व एमएलसी अरविद प्रताप यादव, सपा जिलाध्यक्ष देवेंद्र सिंह, रामनरायन बाथम, पूर्व चेयरमैन अन्नू दीक्षित, बिजलेश तिवारी, नीरज पाल, अरविद दीक्षित, जयसिंह कश्यप, बृजेश यादव, सांसद प्रतिनिधि देवेंद्र सिंह यादव, हरवीर प्रजापति, टीपी मामा, उपदेश यादव, खुमान सिंह वर्मा मौजूद रहे।