महमूदाबाद में वकील-एसडीएम के बीच चल रहे विवाद का हो गया समाधान

ब्यूरो , सीतापुर : जनपद सीतापुर की तहसील महमूदाबाद में करीब एक महीने से चल रहा अधिवक्ता-एसडीएम विवाद अब समाप्त हो गया। और वही महमूदाबाद भाजपा विधायक की मौजूदगी में दोनों पक्षों के बीच सकारात्मक वार्ता के बाद अधिवक्ताओं ने हड़ताल समाप्त की घोषणा कर दी। तथा बुधवार से अधिवक्ता काम पर लौट आये । और वही महमूदाबाद एसडीएम की ओर से भी अधिवक्ताओं को हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया गया है। एवं महमूदाबाद लायर्स एसोसिएशन के नेतृत्व में अधिवक्ताओं ने एसडीएम दिव्या ओझा पर काम न करने, तहसील मुख्यालय पर न रुकने, जनहित के मुद्दों पर ध्यान न देने, कार्यालय में अभद्र भाषा शैली प्रयोग करने, नियम और कानूनों का ज्ञान न होने सम्बंधी कई गंभीर आरोप लगाते हुए कार्य बहिष्कार कर दिया था ।और सोमवार को जिलाधिकारी अनुज प्रताप सिंह ने बार और बेंच के मध्य सामंजस्य स्थापित करने के निर्देश महमूदाबाद एसडीएम को दिये थे। तथा अधिवक्ताओं से भी डीएम ने सहयोग की बात कही थी। इस लिए दोनों पक्षों के बीच लायर्स एसोसिएशन सभागार में बैठक हुई। और बैठक में विधायक आशा मौर्य और नगर पालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि अम्बरीष गुप्त भी मौजूद रहे। दोनो पक्षों की ओर से वार्ता का क्रम शुरू हुआ । 

और महमूदाबाद एसडीएम ने अधिवक्ताओं को बताया कि संवाद स्थापित न होने के चलते कुछ समस्याएं हुई हैं । किन्तु सभी मुद्दों को निपटा लिया गया है। तथा लायर्स एसोसिएशन अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार पटेल ने बताया कि एसोसिएशन के अधिवक्ता-एसडीएम विवाद के सभी मुद्दे सुलझा लिये गये हैं। अधिवक्ताओं ने हड़ताल समाप्त की घोषणा कर दी है। एसडीएम दिव्या ओझा ने बताया कि बातचीत के अभाव में कुछ समस्या हुई थी।  जिसे आपस में बैठक करके निपटा लिया गया है। अब किसी प्रकार कोई विवाद नहीं है। विधायिका आशा मौर्य ने बताया कि जनहित में एसडीएम व अधिवक्ताओं के बीच कुछ सामंजस्य के अभाव में असंतोष था । जिसे दोनों पक्षों की सहमति से निपटा लिया गया है।