अल्लाह की बारगाह में सजदे को झुके लाखों सिर

मुरादाबाद। जुमा अलविदा की नमाज में अल्लाह की बारगाह में सजदे को लाखों सिर झुके। रोजेदारों ने हाथ उठाकर मुल्क और कौम हिफाजत के लिए दुआ की। जामा मस्जिद में नमाज नायब शहर इमाम मुफ्ती सैय्यद फहाद अली ने अदा कराई। जामा मस्जिद में सांसद डा. एसटी हसन और पार्षद सलीम वारसी आदि ने भी नमाज अदा की। दो साल बाद जामा मस्जिद में नमाज अदा करने का मौका मिला तो लोगों में काफी उत्साह रहा। मगर सड़क पर नमाज अदा करने पर रोक के कारण लोगों ने नमाज अदा करने के लिए मस्जिद में अपना स्थान सुरक्षित करने के लिए ग्यारह बजे से ही पहुंचना शुरू कर दिया। नमाज तो एक बजकर बीस मिनट पर ही पढ़ी जानी थी। मगर मस्जिद लगभग साढ़े बारह बजे तक पूरी तरह भर गई। लोगों ने नमाज के लिए छत पर भी सफे बिछा लिए। इसी दौरान स्वयं सेवक भी सक्रिय हो गए। उन्होंने लोगों को मस्जिद के सामने पार्क में जाने के लिए प्रेरित करना शुरू कर दिया। तपती धूम पर आस्था भारी पड़ी और एक बजे तक पार्क भी आधे से अधिक भर गया। जो लोग पार्क में जाने से बच रहे थे। क्षेत्रवासियों ने उनके लिए अपने मकान खोल दिये। बड़ी संख्या में लोगों ने इनके घरों के कमरों और छतों पर भी नमाज अदा की। बड़ी संख्या में लोगों ने गलियों में सफे बिछा लिए और नमाज पढ़ी। आखिरी समय में लोग पार्क और मस्जिद के बीच की सड़क, कटघर वाली सड़क और मुख्य सड़क के किनारे ही बैठ गए और नमाज अदा की। इसके साथ ही शहर की अनय मस्जिदों में भी लोगों जुमा अवलिदा की नमाज अदा की।