अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ग्राम सीतापुर ब्लाक कर्वी में महिला संगोष्ठी एवं सम्मान समारोह आयोजित किया गया

चित्रकूट..नेहरू युवा केंद्र चित्रकूट द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ग्राम सीतापुर ब्लाक कर्वी में महिला संगोष्ठी एवं सम्मान समारोह  आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता डॉ सुनीता श्रीवास्तव  जबकि मुख्य अतिथि डॉक्टर प्रमिला मिश्रा एचओडी संस्कृत विभाग जेआरएचयू राही वहीं विशिष्ट अतिथि के रूप में  पूर्व सभासद बृजेंद्र शुक्ला और रूपा सिंह कुशवाहा उपस्थित रहे कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर किया गया इस अवसर पर महिलाओं के जन जागरूकता कार्यक्रमों एवं समाज में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को नेहरू युवा केंद्र की ओर से सम्मानित किया गया डॉक्टर प्रमिला मिश्रा ने उपस्थित महिलाओं बालिकाओं को जागृत किया एवं कहा कि एक महिला दो परिवारों का पालन पोषण कर सकती है  इसलिए ज्यादा से ज्यादा बालिकाएं पढ़े लिखे और आगे बढ़े उन्होंने कई उदाहरण प्रस्तुत किए जिसमें जिन महिलाओं ने आईएएस आईपीएस आदि में सफलता प्राप्त की है वहीं अध्यक्षता पद से बोलती हुई डॉ सुनीता श्रीवास्तव ने भी महिलाओं को प्रोत्साहित किया और उन्होंने प्राचीन समय से लेकर वर्तमान समय के बीच अंतर को बताते हुए उन्होंने विस्तार से चर्चा की इस कार्यक्रम में लगभग 130 महिलाओं ने भाग लिया तथा 20-22 युवा कवि उपस्थित थे कार्यक्रम सुचारु रुप से चला नेहरू युवा केंद्र के ए पी एस प्रवीण कुमार सक्सेना ने कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों व समस्त महिलाओं बालिकाओं एवं युवाओं का आदर सम्मान किया और कहा कि आज पूरे विश्व में महिलाओं के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं नेहरू युवा केंद्र द्वारा भी यह कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें महिलाओं को समाज में बराबरी का दर्जा दिए जाने के लिए उन्होंने विस्तार से अपनी बात रखी कहा कि देश व समाज का उत्थान तभी संभव है जब पुरुषों की तरह महिलाएं भी आगे बढ़कर आएंगी आज हर क्षेत्र में महिलाएं योगदान दे रही हैं महिलाएं किसी से पीछे नहीं है कहा कि हमारा देश देवियों का देश है अब भारत सरकार द्वारा महिला कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही है बालिकाओं के पढ़ाई लिखाई को प्रोत्साहित किया जा रहा है अब किसी भी परिवार में बालिकाएं बोझ नहीं होगी ऐसा केंद्र सरकार का प्रयास है उन्होंने सभी माता-पिता से कहा कि बालिकाओं को जरूर पढ़ें क्योंकि बालिकाओं के पढ़ने से दो परिवारों का  नाम रोशन होता है रूपा कुशवाहा द्वारा कोमल है कमजोर नहीं गीत के माध्यम से महिलाओं बालिकाओं को उनकी शक्ति और क्षमता का एहसास कराया कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर तुषार कांत शास्त्री ग्रामोदय विश्वविद्यालय चित्रकूट द्वारा किया गया कार्यक्रम के सफल आयोजन में अनुपम यादव राजू कुशवाहा गीता कुशवाहा पूनम अमिति ममता रूपा आदि का सहयोग सराहनीय रहा।