दूध पीना नहीं पसंद तो महिलाएं खाएं ये चीजें, शरीर में नहीं होगी कैल्शियम की कमी

वैसे तो कैल्शियम की कमी किसी भी शख्स को किसी भी उम्र में हो सकती है लेकिन महिलाओं में यह समस्या अधिक देखने को मिल रही है। शोध की मानें तो देश में लगभग आधी महिलाएं कैल्शियम की कमी से जूझ रही हैं, जिसके कारण उन्हें बुढ़ापे से पहले ही कमर दर्द, जोड़ों दर्द जैसी समस्याएं हो सकती हैं।  विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, भारत में 85% लोग विटामिन डी व कैल्शियम की कमी से पीड़ित हैं।

क्यों जरूरी है कैल्शियम?

कैल्शियम एक महत्वपूर्ण खनिज है जो हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। कैल्शियम हमारी हड्डियों और दांतों के विकास और स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण तत्व है। यह रक्त के थक्कों और मांसपेशियों के संकुचन में भी मदद करता है। लेकिन आज ज्यादातर महिलाएं कैल्शियम की कमी से पीड़ित हैं और यह एक बहुत ही आम समस्या बन गई है। खासकर गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कैल्शियम की कमी का सामना करना पड़ता है। कैल्शियम की कमी से उनकी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और शरीर में ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा हो जाता है।

हैरानी की बात तो यह है कि रिपोर्ट के मुताबिक, भारत दूध का सबसे बड़ा उत्पादक है लेकिन फिर भी आहार में इसकी मात्रा में भारी कमी है। ऐसा इसलिए क्योंकि कई महिलाओं को दूध पीना पसंद नहीं होता है तो कुछ को दूध डाइजेस्ट नहीं होता। अगर आप भी इस लिस्ट में शामिल है तो दूध की बजाए दूसरी चीजों से शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा कर सकती हैं।

फलियां

फलियां सिर्फ कैल्शियम ही नहीं बल्कि आयरन, प्रोटीन, विटामिन्स से भी भरपूर होते हैं। 1/2 कप सफेद बीन्स में करीब 81 मिलीग्राम कैल्शियम होता है।

बादाम

1/2 कप बादाम में 130 मिलीग्राम से अधिक कैल्शियम होता है, जो ना सिर्फ हड्डियों को मजबूत बनाता है बल्कि कई बीमारियों से भी बचाता है।

दलिया

1 कटोरी दलिया में करीब 100 मि.ग्रा. कैल्शियम होता है, जो हड्डियों को मजबूती देता है। वहीं, दलिया का सेवन पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में भी फायदेमंद है।

संतरा

1 संतरा (150 ग्राम) करीब 60 मि.ग्रा. कैल्शियम के साथ विटामिन डी का भंडार माना जाता है। इसका सेवन ना सिर्फ हड्डियों को मजबूत बनाता है बल्कि यह किडनी, आंखों के लिए भी फायदेमंद है।

सोया दूध

अगर आपको दूध नहीं पसंद तो सोया दूध आपके लिए सबसे अच्छा ऑप्शन है। इसमें गाय के दूध के बराबर प्रोटीन और कैल्शियम होता है।

हरे पत्ते वाली सब्जियां

हरी पत्तेदार सब्जियों में 100 मिलीग्राम से ज्यादा कैल्शियम पाया जाता है। इसके लिए अपनी डाइट में पालक, केल, शलजम, साग आदि शामिल करें।

तिल के बीज

1 चम्मच तिल में 88 मि.ग्रा. कैल्शियम और भरपूर मैग्नीशियम होता है, जो उच्च रक्तचाप को कम करने में मददगार है। यह अनिद्रा को भी दूर भगाता है और दिल को भी स्वस्थ रखता है।

टोफू

1/2 कप टोफू में 86ः डीवी कैल्शियम होता है, जो जोड़ों के दर्द के साथ कई बीमारियों को दूर रखने में मददगार है।

दही

1 मध्यम कप दही में लगभग 220 मिलीग्राम कैल्शियम होता है। यह प्रोबायोटिक बैक्टीरिया से भरपूर होता है, जो दुरुस्त पाचन के लिए जरूरी है।

रागी

भारत में राष्ट्रीय पोषण संस्थान के अनुसार, 100 ग्राम रागी में लगभग 344 मिलीग्राम कैल्शियम होता है। आप इसे अनाज की तरह खा सकते हैं या इसे पीसकर आटा गूंथ सकते हैं।