हल्दी दूध से लेकर नस्य चिकित्सा तक, इम्यूनिटी बढ़ने में मदद करेंगे ये आयुर्वेदिक तरीके

कोविड के दौर में इम्यूनिटी स्ट्रांग होने बेहद जरूरी है। एक्सपर्ट अनुसार, इससे संक्रमण से लड़ने की शक्ति मिलती है। इसके साथ वायरल रोगों सहित संक्रमण के जोखिम को कम करने वाले विदेशी रोगजनकों से भी सुरक्षित रखती है। ऐसे में आज हम आपको इम्यूनिटी बढ़ाने के 5 सरल आयुर्वेदिक तरीके बताते हैं...

हल्दी दूध

शरीर की इम्यूनिटी मजबूत करने के लिए हल्दी वाला दूध पीना बेस्ट ऑप्शन है। इससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता तेजी से बढ़ती है। इसके साथ ही थकान, कमजोरी, गले की खुजली, खराश आदि दूर होने में मदद मिलती है। इसके लिए रोजाना सोने से पहले 1 गिलास गुनगुने दूध में 2 चुटकी हल्दी मिलाकर पीएं।

गर्म पानी के साथ खाएं च्यवनप्राश

सर्दियों में बीमारियों की चपेट में आने का खतरा अधिक रहता है। वहीं कोरोना के मामले भी तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। इससे बचने व इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए गर्म पानी के साथ च्यवनप्राश खाना बेस्ट ऑप्शन है। कई तरह की जड़ी-बूटियों से तैयार च्यवनप्राश शरीर को अंदर से गर्म रखता है। ऐसे में इसका सेवन करने से संक्रमण की चपेट में आने का खतरा कम रहता है।

प्रणायाम

सर्दी, फ्लू और कोविड श्वसन प्रणाली के संक्रमण का कारण माना गया है। इन बीमारियों की वजह से बनने वाले वायरस फेफड़ों पर हमला करके उसे संक्रमित करने का काम करते हैं। ऐसे में इस दौरान श्वसन तंत्र को मजबूत रखने के लिए प्राणायाम करें। आप कपालभाति और भस्त्रिका सांस से जुड़े ये व्यायाम कर सकती हैं। ये फेफड़ शुद्ध करने के साथ इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं।

नस्य चिकित्सा

आप संक्रमण से बचने के लिए नस्य चिकित्सा का सहारा ले सकते हैं। इस तकनीक के जरिए संक्रमण पैदा करने वाले वायरस और बैक्टीरिया के प्रवेश को रोकने में मदद मिलती है। इसमें नथुने में घी, तिल के तेल या नारियल के तेल की कुछ बूंदें लगानी होती है। नाक की रुकावट दूर करने के लिए यह एक आयुर्वेदिक उपाय है। इसमें नहाने व कहीं बाहर जाने से पहले अपने नथुनों में कुछ बूंदें तेल की लगानी है।

हर्बल टी

आप अपनी रेगुलर चाय को हर्बल टी से बदल सकती हैं। इसमें सभी जरूरी तत्व, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लामेटरी, एंटी-एजिंग गुण होते हैं। इसके सेवन करने से इम्यूनिटी तेजी से बूस्ट होती है। शरीर में सूजन कम होने के साथ सर्दी, खांसी आदि मौसमी बीमारियों से बचाव रहता है। इसके साथ ही शरीर में जमा एक्स्ट्रा चर्बी कम होकर बॉडी शेप में आती है। इसके लिए आप घर पर ही तुलसी, लौंग, इलायची आदि मसालों से घर पर हर्बल टी बनाकर पी सकती  हैं। इसके आप ग्रीन टी भी पी सकते हैं।