गला खराब होने पर कभी न खाएं ये चीजें

सर्दियों दौरान ज्यादातर लोग सर्दी-जुकाम, गला खराब की समस्या का सामना करते हैं। इसके साथ ही गले में इंफेक्शन होने से खांसी, जुकाम, गला बैठना, गले में खराश आदि की परेशानी होती है। हेल्थ एक्सपर्ट अनुसार, इससे राहत पाने के लिए दवा खाने के साथ कुछ चीजों के सेवन से बचना चाहिए। नहीं तो आराम मिलने की जगह समस्या बढ़ सकती है। इसके अलावा आप गले को ठीक करने के लिए कुछ देसी नुस्खे भी अपना सकते हैं। चलिए जानते हैं इनके बारे में...

ऑयली व जंक फूड

हेल्थ एक्सपर्ट अनुसार, गला खराब व बैठने की स्थिति में ऑयली व जंक फूड खाने से परहेज रखना चाहिए। इससे समस्या बढ़ सकती हैं। इस दौरान घर पर कम मसालों व तेल से बना ही भोजन करना चाहिए।

दूध

खांसी, जुकाम व गले से जुड़ी समस्याएं होने पर अधिक मात्रा में दूध नहीं पीना चाहिए। इससे कफ बढ़ने की समस्या हो सकती हैं। इसके अलावा अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन भी कम मात्रा में ही करना चाहिए। हालांकि हल्दी वाला दूध पीने से कुछ आराम मिल सकता है।

ठंडी चीजें खाने से बचें

गला खराब होने की परिस्थिति में ठंडी चीजें खाने से बचना चाहिए। आयुर्वेद अनुसार, ये पेय पदार्थ कफ बढ़ाने व गले को नुकसान पहुंचाने का काम करते हैं।

गला से जुड़ी समस्याएं दूर करने के लिए अपनाएं ये घरेलू नुस्खे...

मुलेठी

गला खराब होने की स्थिति में आप मुलेठी का सेवन कर सकती हैं। इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा। इसके लिए मुलेठी का एक टुकड़ा मुंह में रखकर चूसते रहें। इसके अलावा गर्म पानी में 2 चुटकी मुलेठी पाउडर मिलाकर पीने से आपको गला बैठने की समस्या से राहत मिलेगी।

नमक का पानी

गले से जुड़ी समस्या से आराम पाने के लिए आप गर्म पानी से गरारे कर सकती हैं। इसके लिए 1 गिलास गुनगुने पानी में 2-3 चुटकी नमक मिलाएं। अब सुबह-शाम इस पानी से गरारे करें। इससे गले में जमा कफ बाहर निकलने में मदद मिलेगी। गले में इंफेक्शन की समस्या दूर होगी।

तुलसी

तुलसी एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल, एंटी-सेप्टिक गुणों से भरपूर होती हैं। इसका सेवन करने से गला में खराश, दर्द, खांसी आदि की समस्याओं से आराम मिलेगा। इसके लिए 1/2 गिलास पानी में तुलसी की कुछ पत्तियां उबालें। फिर छानकर इससे गरारे करें। इसके अलावा आप इसे चाय में मिलाकर भी पी सकती हैं।

लौंग और काली मिर्च

इसके लिए एक गिलास गर्म पानी में 1/4-1/4 लौंग और काली मिर्च का पाउडर मिलाएं। इसके बाद इसमें स्वाद अनुसार शहद मिलाकर सुबह खाली पेट पिएं। इससे आपको गले में खराश, दर्द आदि परेशानियों से राहत मिलेगी।