रामवीर उपाध्याय ने नहीं किया क्षेत्र में चुनाव प्रचार

हाथरस । हाथरस जिले की सादाबाद विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार व वर्तमान में सादाबाद से ही विधायक रामवीर उपाध्याय एक ऐसे प्रत्याशी हैं जो अभी तक जनता के बीच एक भी बार वोट मांगने नहीं आये है। इतना ही नहीं उन्होंने अपना नॉमिनेशन भी ऑनलाइन ही फाइल किया था। स्वास्थ्य कारणों की वजह से रामवीर उपाध्याय क्षेत्र में प्रचार करने नहीं उतरे हैं। रामवीर उपाध्याय का पूरा परिवार उनके लिए वोट मांग रहा है।रामवीर उपाध्याय के निजी सचिव रानू पंडित का कहना है कि 11 तारीख के बाद रामवीर उपाध्याय जनता के बीच आ जायेंगे। रामवीर उपाध्याय 5 बार से बिधायक है और जिले की तीनों विधानसभा सादाबाद, सिकन्दराराऊ और हाथरस से विधायक रहे है। रामवीर उपाध्याय अभी कुछ समय पहले ही बसपा छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए है।रामवीर उपाध्याय का  परिवार राजनीति में है। इस बार उनके लिए उनकी पत्नी, बेटा, बेटी, भाई, भाई की पत्नी यहां तक कि रामवीर के बहनोई भी उनके लिए जनता से वोट मांग रहे हैं।रामवीर उपाध्याय का स्वास्थ्य पिछले काफी समय से खराब चल रहा था, जिसके कारण वह जनता से दूर थे।अब उनका स्वास्थ्य सही हुआ है तो वह पुनः राजनीति में सक्रिय हुए और विधानसभा चुनाव 2022 के लिए भी उन्होंने ऑनलाइन नॉमिनेशन किया था और उसके बाद वह जनता के बीच अभी तक नहीं आये है। रामवीर उपाध्याय के निजी सचिव रानु पण्डित का कहना है कि वह 11 तारीख से जनता के बीच आ जायेंगे और पहले की तरह ही जनता के लिए काम करेंगे। क्षेत्र की जनता की मांग है कि हम रामवीर उपाध्याय को अपने बीच देखना चाहते हैं, क्योंकि वो हमारे पुराने दमदार नेता है। रामवीर उपाध्याय के बीजेपी जॉइन करने और सादाबाद विधानसभा से चुनाव लड़ने के  ऐलान के बाद से ही ये सीट जनपद की सबसे हॉट सीट मानी जा रही है।