इन फूड्स को खाने से बढ़ सकता है कैंसर का खतरा

कैंसर एक ऐसी खतरनाक बीमारी है जिसका नाम ही डराने के लिए काफी है। किसी को यह बीमारी क्यों हो जाती है, इसका जवाब कई बार डॉक्टर्स के पास भी नहीं होता। कैंसर के साथ सबसे बुरी बात यह होती है कि इसके लक्षण तब पता चलते हैं जब यह अडवांस्ड स्टेज पर पहुंच जाता है। थोड़ी सी सतर्कता और जागरूकता आपको इस बुरी बीमारी से बचा सकती है। हमारी लाइफस्टाइल और खानपान का कई बीमारियों से बचने में बड़ा योगदान होता है। कैंसर से जुड़े भी कई शोध हो चुके हैं जिनमें खानपान की अहम भूमिका सामने आई। 

कुछ फूड्स बढ़ा सकते हैं कैंसर रिस्क

कैंसर कई तरह के होते हैं और इनके होने की पीछे भी कई तरह की वजहें हो सकती हैं। ज्यादातर केसेज में इसकी वजह जेनेटिक और फैमिली हिस्ट्री होती है। वहीं लाइफस्टाइल जैसे बाहरी फैक्टर्स भी कई बार जिम्मेदार होते हैं। इसमें आपकी डायट की अहम भूमिका होती है। यहां कुछ फूड्स हैं जो आपके कैंसर का रिस्क बढ़ा सकते हैं।

तला-भुना खाना

जब स्टार्च वाले फूड्स को ऊंचे तापमान पर पकाया जाता है तो एक्रिलअमाइड नाम का कम्पाउंड बनता है। फ्रेंच फ्राइज, आलू के चिप्स वगैरह इन सबमें आते हैं। ज्यादा फ्राइड फूड खाने से कैंसर का रिस्क बढ़ सकता है।

डेयरी प्रोडक्ट्स

कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक, डेयरी प्रोडक्ट्स से प्रोस्टेट कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। इनमें दूध, पनीर और दही या योगर्ट शामिल हैं। 

ज्यादा पका खाना

बार्बेक्यू, ग्रिल्ड और पैन फ्राइड फूड ज्यादा खाने से भी कैंसर का रिस्क बढ़ जाता है। खासकर अगर आप मीट को ओवरकुक करते हैं तब। 

रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट्स और चीनी

हेल्थलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक, ज्यादा शुगर और स्टार्च वाला खाना खाने से टाइप 2 डायबिटीज और मोटापे का रिस्क बढ़ता है। 2020 में हुई एक स्टडी के मुताबिक दोनों ही कंडीशंस से शरीर में इनफ्लेमेशन और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस बढ़ता है। इससे कई तरह के कैंसर्स का रिस्क बढ़ जाता है। वाइट ब्रेड, वाइड पास्ता, सफेद चावल की जगह ब्राउन राइस, होल ग्रेन ब्रेड और ओट्स को डायट में शामिल करें।

शराब, तंबाकू को कहें न

शराब से सिर्फ कैंसर का ही रिस्क नहीं होता बल्कि ये आपके दिमाग और लिवर को भी काफी नुकसान पहुंचाती है। ऐल्कोहल आपके लिवर में पहुंचकर एसिटल्डीहाइड में बदलता है। यह कैंसर को प्रमोट करता है। वहीं तंबाकू और स्मोकिंग से भी कई तरह के कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है।

फॉलो करें ऐसी लाइफस्टाइल

फिट और हेल्दी रहने के लिए एक्सरसाइज करना बेहद जरूरी है। कई रिसर्चेज में यह बात सामने आ चुकी है कि जब हम एक्सरसाइज करते हैं तो शरीर में कुछ ऐसे केमिकल्स बनते हैं जो कैंसर की ग्रोथ को कम करने लगते हैं। अगर शरीर में कैंसर सेल्स बन रही होती है तो भी ये केमिकल्स उन्हें खोजकर नष्ट करते हैं। इसलिए फिजिकल ऐक्टिविटी, योग और ब्रीदिंग एक्सरसाइज को रूटीन में शामिल करें।

खाएं ये फूड्स

सब्जियों और फल में भरपूर मात्रा में ऐंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं। खाने के ज्यादा हिस्सा कच्चे फल-सब्जियां रखें। यह डीएनए डैमेज को रोकते हैं। डीएनए म्यूटेशन से ही कैंसर होता है। नट्स, बीन्स, फाइबर वाले फूड्स, मल्टी विटामिन्स डायट में शामिल करें।