रेल मंत्री अश्विनी ने बताया, रेलवे में 2 लाख पद खाली, देखे रिक्त पदों का विवरण

Railway Recruitment  : केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने शुक्रवार को राज्यसभा में बताया कि रेलवे के विभिन्न विभागों में 2,65,547 पद खाली पड़े हैं। इनमें 2,177 गेजटेड और 2,63,370 नॉन-गेजटेड पद हैं। उन्होंने यह जानकारी सीपीआई(एम) के सांसद डॉ वी शिवासदन द्वारा पूछे गए एक प्रश्न के लिखित उतर में दी। केंद्रीय मंत्री ने उच्च सदन को विभिन्न जोनों में खाली पड़े गेजटेड और नॉन-गेजटेड पदों ( Railway Vacancy )  के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि मध्य रेलवे में 56 गेजटेड और 27177  नॉन गेजटेड पद खाली हैं। जबकि ईस्ट कोस्ट रेलवे में 87 गेजटेड और 8477 नॉन गेजटेड पद रिक्त हैं हैं।

उन्होने कहा, 'ईस्ट सेंट्रल रेलवे में 170 गेजटेड और 15268 नॉन गेजटेड पद रिक्त हैं। ईस्टर्न रेलवे में 195 गेजटेड और 28204 नॉन गेजटेड वैकेंसी खाली पड़ी है।' उन्होंने कहा कि मेट्रो रेलवे में 22 गेजटेड और 856 नॉन गेजटेड पद रिक्त हैं। 

रिक्त पदों का शेष विवरण

नॉर्थ सेंट्रल रेलवे - 141 गेजटेड, 19366 नॉन गेजटेड

नॉर्थ ईस्टर्न रेलवे - 62 गेजटेड, 14231 नॉन गेजटेड 

नॉर्थ ईस्ट फ्रंटियर रेलवे - 112 गेजटेड, 15677 नॉन गेजटेड 

नॉर्दर्न रेलवे - 115 गेजटेड, 37436 नॉन गेजटेड 

नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे - 100 गेजटेड, 15049 नॉन गेजटेड

साउथ सेंट्रल रेलवे - 43 गेजटेड, 16741 नॉन गेजटेड 

साउथ ईस्ट सेंट्रेल रेलवे - 88 गेजटेड, 9422 नॉन गेजटेड 

साउथ ईस्टर्न रेलवे - 137 गेजटेड, 16847 नॉन गेजटेड 

साउदर्न रेलवे - 161 गेजटेड, 19500 नॉन गेजटेड 

साउथ वेस्टर्न रेलवे - 65 गेजटेड, 6525 नॉन गेजटेड 

वेस्ट सेंट्रल रेलवे - 59 गेजटेड, 11073 नॉन गेजटेड

वेस्टर्न रेलवे - 172 गेजटेड, 26227 नॉन गेजटेड 

रेल मंत्री ने कहा कि अन्य यूनिटों में 507 गेजटेड  और 12760 नॉन गेजटेड पद रिक्त हैं। उन्होंने राज्यसभा को बताया कि रिक्तियों का होना और भरना एक लगातार चलने वाली प्रक्रिया है और इसे रेलवे द्वारा परिचालन आवश्यकताओं के अनुसार भर्ती एजेंसियों को मां गपत्र देकर भरा जाता है। प्रक्रिया के दौरान रिक्तियां पैदा हो सकती हैं। इन्हें बाद में भरा जाता है।

 विभिन्न राज्यों द्वारा लगाए गए कोविड प्रतिबंधों और लॉकडाउन के कारण परीक्षा की प्रक्रिया प्रभावित हुई है।

उन्होंने कहा कि देश में कोविड की पहली लहर के समाप्त होने के बाद चीजें सामान्य होने पर आरआरबी ने 15 दिसंबर 2020 से चरणों में अधिसूचित रिक्तियों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) और रेलवे भर्ती प्रकोष्ठ (आरआरसी) द्वारा 1,89,790 लोगों को नियुक्ति दी गई है।