हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड: जल्द जारी होंगे 12वीं कक्षा की टर्म-1 परीक्षा के परिणाम

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड(HPBOSE) धर्मशाला 12वीं कक्षा की टर्म-1 परीक्षा का परिणाम जल्द घोषित होगा। इसके लिए बोर्ड तैयारियों को अंतिम रूप देने में लगा है। शिक्षा बोर्ड अपनी आधिकारिक वेबसाइट hpbose.org पर परिणाम जारी करेगा। इस बार 12वीं कक्षा की फर्स्ट टर्म परीक्षा में 87,872 विद्यार्थी बैठे थे। कोविड-19 नियमों की पालना के साथ 10वीं कक्षा की टर्म-1 परीक्षाएं 20 नवंबर से तीन दिसंबर तक आयोजित की गई थी, जबकि 12वीं कक्षा परीक्षाएं 18 नवंबर से नौ दिसंबर 2021 तक आयोजित की गई थीं। फर्स्ट टर्म परीक्षा की कोई मेरिट लिस्ट जारी नहीं की जाएगी। मेरिट लिस्ट सेकेंड टर्म की परीक्षाओं के बाद कंपाइल रिजल्ट की निकाला जाएगा।

सूत्रों के अनुसार यदि बोर्ड के सॉफ्टवेयर में किसी तरह की तकनीकी दिक्कत नहीं हुई तो 12वीं कक्षा का परिणाम आज भी घोषित हो सकता है। हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि अभी परिणाम घोषित करने की प्रक्रिया चल रही है। जल्द परिणाम घोषित किया जाएगा। वहीं, परिणाम घोषित होने के बाद जो विद्यार्थी अपने परिणामों से संतुष्ट नहीं होंगे, वे बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से री-चेकिंग के लिए आवेदन कर सकते हैं। विद्यार्थियों को परिणाम से संबंधित आपत्ति दर्ज करवाने या पुनरावेक्षण फॉर्म जमा करने के लिए 10 से 15 दिनों का समय दिया जाएगा। अनुरोध के आधार पर बोर्ड टर्म-1 उत्तरपुस्तिकाओं की पुन जांच करेगा।

ऐसे चेक करें अपना परिणाम

  चरण 1: हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट hpbose.org पर जाएं।

चरण 2: hpbose 10/12th term-1 result 2021 लिंक पर क्लिक करें।

चरण 3:  लॉगिन क्रेडेंशियल जैसे रोल नंबर और अन्य विवरण दर्ज करें।

उधर, कोविड-19 के बीच शैक्षणिक सत्र स्कूलों में होने वाली टर्म-2 प्रैक्टिकल परीक्षाओं के लिए स्कूल शिक्षा बोर्ड प्रश्नपत्र जारी नहीं करेगा। स्कूलों को अपने स्तर पर प्रश्नपत्र तैयार करने होंगे। परीक्षा के संचालन के लिए केंद्र अधीक्षक, उपाधीक्षक और अन्य स्टाफ की नियुक्तियां संबंधित परीक्षा केंद्र के प्रधानाचार्य, मुख्याध्यापक को अपने स्कूल से आंतरिक रूप से करनी होगी। बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत शैक्षणिक सत्र 2021-2022 के दौरान 10वीं और 12वीं कक्षाओं की टर्म-2 की बोर्ड परीक्षा के आयोजन के दृष्टिगत बोर्ड ने कई निर्णय लिए हैं। टर्म-2 परीक्षाओं के संचालन के दौरान केंद्र अधीक्षक/उपाधीक्षक और अन्य स्टाफ की नियुक्तियां संबंधित परीक्षा केंद्र के प्राधानाचार्य, मुख्याध्यापक को अपने विद्यालय में आंतरिक रूप से करनी होंगी। 10वीं और 12वीं कक्षा की टर्म-2 की प्रायोगिक परीक्षाओं का आयोजन आंतरिक रूप से संबंधित विद्यालय को अपने स्तर पर ही करना होगा। संबंधित विषय के अध्यापक की ओर से प्रश्न पत्र तैयार किए जाएंगे तथा प्रैक्टिकल परीक्षाओं का आयोजन करना होगा। स्कूल शिक्षा बोर्ड ने इस संदर्भ में अधिसूचना भी जारी कर दी है।