IND vs SA: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारतीय तेज गेंदबाजों ने बरपाया कहर, इस सीरीज के दौरान झटके 5 विकेट हॉल

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की सीरीज का निर्णायक टेस्ट मैच केप टाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम में खेला जा रहा है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज में भारत के बल्लेबाजों ने काफी निराश किया है। इस सीरीज की पहली पारी को छोड़ दे तो भारतीय बल्लेबाज पूरी तरह से संघर्ष करते हुए नजर आए हैं। लेकिन भारत के तेज गेंदबाजों ने तीनों ही मैचों में अपने शानदार प्रदर्शन से मैच का रुख मोड़ा है।

भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और शार्दुल ठाकुर ने इस सीरीज के दौरान 5 विकेट हॉल हासिल किए हैं। टेस्ट सीरीज के पहले मैच की पहली पारी में मोहम्मद शमी ने पांच विकेट लेकर अफ्रीका की पारी को 200 रन के अंदर रोकने में अहम भूमिका निभाई थी। शमी ने पहली पारी में 16 ओवर में 44 रन देकर 5 विकेट झटके थे। इस दौरान उन्होंने सर्वाधिक 5 मेडन ओवर डाले थे। सेंचुरियन में खेले गए इस मैच में भारत ने 113 रन से जीत दर्ज की थी। 

दूसरे मैच की पहली पारी में शार्दुल ठाकुर ने 7 विकेट झटककर साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों को रन बनाने के लिए तरसा दिया था। शार्दुल ने इस पारी में 17.5 ओवर में 61 रन देकर 7 विकेट झटके थे। हालांकि उनके इस शानदार प्रदर्शनके बावजूद भारतीय टीम को दूसरे टेस्ट में 7 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। 

इतिहास रचने के इरादे से उतरी भारतीय टीम के स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने निर्णायक टेस्ट मैच के दूसरे दिन शानदार प्रदर्शन किया। तीसरे मैच की भी पहली पारी में भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुवा जसप्रीत बुमराह ने पांच विकेट झटकर भारत की मैच में वापसी कराई। बुमराह ने 23.3 ओवर में 42 रन देकर 5 विकेट झटके। इस के दौरान उन्होंने सर्वाधिक 8 मेडन ओवर डाले। 

वहीं ऐसा पहली बार हुआ है कि एक टेस्ट सीरीज में भारत के तीन अलग-अलग गेंदबाजों ने लगातार तीन मैचों में पांच विकेट हॉल झटके हो। चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली क्रीज पर मौजूद हैं। भारतीय टीम दूसरी पारी में 57 रन पर 2 विकेट खो चुकी है। दोनों ही सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और मयंक अग्रवाल पवेलियन लौट चुके हैं। भारत के पास अब तक 70 रनों की बढ़त है। साउथ अफ्रीका ने पहली पारी में 210 रन जबकि टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी में 223 रन बनाए थे।